युवक का सिर फोड़ा, हाथ तोड़ा:पुलिस ने बनाया क्रास केस, युवक पहुंचा एडिशनल एसपी के पास लगाई न्याय की गुहार

मुरैना2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
अस्पताल में शिवदास - Dainik Bhaskar
अस्पताल में शिवदास
  • मामला सुमावली क्षेत्र के अटा गांव का, दो पक्षों में हुई लड़ाई, युवक ने लगाया पुलिस पर क्रास केस करने का आरोप

सुमावली क्षेत्र के अटा गांव में दो पक्षों में लड़ाई हो गई। लड़ाई एक पटिया टूटने की बात पर हो गई। इस पर पटिया तोड़ने वाले लोगों ने जिसकी पटिया टूटी थी उस पर हमला बोल दिया। जिससे उस व्यक्ति के सिर में गंभीर चोटें आई और उसका एक हाथ टूट गया। पुलिस ने उसकी रिपोर्ट लिखी साथ में सामने वाली पार्टी की रिपोर्ट भी लिखकर क्रास केस बना दिया। अब युवक का कहना यह है कि पहले हमें मारा और पुलिस ने क्रास केस बना दिया जिससे राजीनामा करना पड़े। लिहाजा अपनी बात को लेकर युवक एडिशनल एसपी के पास पहुंचा और क्रास केस हटवाने का निवेदन किया। यहां बता दें, कि शिवदास पुत्र रामप्रकाश गोस्वामी, उम्र 28 साल, निवासी अटा गांव ने अपनी मां कमला, पत्नी सोनो, बहू भूरो, भतीजे दिलीप के साथ घायल अवस्था में पहुंचकर सुमावली थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई थी। रिपोर्ट में उसने कहा था कि वह ड्राइवरी का काम करता है। 22 सितंबर को शाम लगभग साड़े सात बजे घर के बाहर बनी नाली के ऊपर पटिया रखी थी। उसको बलराम उर्फ बल्लू ने तोड़ दिया। जब उन्होंने उससे उसे तोड़ने की वजह पूछी तो उसने उल्टा उन्हें गालियां दीं व अपने साथी करण व मातादीन के साथ लाठी से उस पर टूट पड़े। उसने उसके सिर में व हाथ में लाठी मारी जिससे सिर में गंभीर चोट आई तथा हाथ की हड्‌डी टूट गई। जब उसकी पत्नी व मां व भतीजा उसे बचाने आए तो उन लोगों की मारपीट कर दी। पुलिस ने उनके आवेदन पर पीटने वालों के खिलाफ मारपीट की विभिन्न धाराओं में मामला दर्ज कर लिया। उसके बाद वह लोग वहां से चले आए तथा जिला अस्पताल में भर्ती हो गया । पुलिस ने बाद में सामने वाली पार्टी की तरफ से भी उनके खिलाफ उन्हीं धाराओं में मामला दर्ज कर लिया। जिससे क्रास केस बन गया।

एडिशनल एसपी के पास शिकायत लेकर पहुंचा फरियादी
एडिशनल एसपी के पास शिकायत लेकर पहुंचा फरियादी

यह है शिकायत
शिवदास पुत्र रामप्रकाश को जब यह पता लगा कि पुलिस ने आरोपियों की तरफ से भी उनके व उनके परिवार के सदस्यों के खिलाफ मामला दर्ज किया है तो उसे बड़ी नाराजगी हुई कि पुलिस ने कैसे उनके ऊपर मामला दर्ज कर लिया। अपने साथ हुए अन्याय की दास्तां लेकर वह एडिशनल एसपी रायसिंह नरवरिया के पास पहुंचा और वहां उनसे अपनी आप बीती सुनाते हुए अपने ऊपर दर्ज किए गए केस को हटाने का निवेदन किया।
कहती है पुलिस
दोनों पक्षों के खिलाफ इसलिए केस किया है कि दोनों पक्षों के सिर में चोटें थीं। यह बात अलग है कि शिवदास के अधिक चोट है और सामने वाले के कम। दोनों की एमएलसी कराई गई थी।
वीर सिंह जौनवार, थाना प्रभारी, सुमावली
कहते हैं एडिशनल एसपी

एक ही परिवार का मामला है। शिवदास हमसे आकर मिला था। उसने कल रात में आकर हमें पूरी बात बताई है। उसका दोबारा मेडीकल कराया जाएगा जिसमें धाराएं बढ़ेंगी। सामने वालों के भी चोटें आई हैं, इसलिए क्रास केस बना है।
रायसिंह नरवरिया, एडिशनल एसपी, मुरैना