महिला स्वधार गृह से दो नाबालिग फरार:पांच घंटे के अन्दर पुलिस ने ग्वालियर से किया बरामद

मुरैनाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
प्रतीकात्मक फोटो - Dainik Bhaskar
प्रतीकात्मक फोटो
  • भागने की फिराक में थीं नाबालिग, पुलिस ने जाकर मौके पर दबोच लिया

मुरैना के बड़ोखर स्थित स्वधार गृह से दो नाबालिग फरार हो गईं। वह उस समय फरार हुईं जब स्वधार गृह की अधीक्षिका गहरी नींद में सोई होई हुईं थीं। दोनों नाबालिग ने उनके कब्जे से मुख्य द्वार की चाबी चुराई और दरवाजा खोलकर फरार हो गईं। दोनों नाबालिग भागकर ग्वालियर पहुंच गई तथा वहां से वे भागने की फिराक में थीं। तभी स्टेशन रोड थाना पुलिस वहां पहुंची और पकड़ कर ले आई।
आपको बता दें कि शहर के बड़ोखर रोड स्थित महिला स्वधार गृह से दो नाबालिग फरार हो गईं। दोनों नाबालिग उस समय फरार हुईं जब स्वधार गृह की अधीक्षिका सुनीता कुशवाह गहरी नींद में सो रही थीं। एक नाबालिग बानमौर की है तथा दूसरी भिण्ड की है।
5 माह से रह रही थीं दोनों नाबालिग
आपको बता दें, कि दोनों नाबालिग पिछले पांच माह से स्वधार गृह में रह रहीं थीं। दोनों के माता-पिता ने अपनाने से इंकार कर दिया था जिसकी वजह से उनको स्वधार गृह में रखा गया था। आपको बता दें कि, स्वधार गृह में लगभग दो दर्जन से अधिक महिलाएं रह रही हैं।
जनकगंज में छिपी बैठी थी नाबालिग
आपको बता दें, कि जैसे ही दोनों नाबालिगों के भागने की खबर स्टेशन रोड थाना पुलिस को लगी। पुलिस ने दोनों की खोजबीन शुरु कर दी। पुलिस ने उनको पहले बाजार में खोजा लेकिन वह नहीं मिली। उसके बाद पुलिस को पता लगा कि वे दोनों भागकर ग्वालियर चली गईं हैं। पुलिस ने पीछा किया तथा जनकगंज, नेहरू पेट्रोल पंप के पास, ग्वालियर में उनको दबोच लिया। दोनों वहां से भागने की तैयारी में थीं। पुलिस उनको लेकर वापस मुरैना स्टेशन रोड थाना पहुंच चुकी है। जल्द ही दोनों महिलाओं को महिला एवं बाल विकास विभाग के समक्ष पेश किया जाएगा।
जल्दी सक्रिय हो गई पुलिस
जैसे ही हमको नाबालिगों के भागने की खबर लगी। तुरंत पूरा स्टॉफ सक्रिय हो गया और दोनों को पकड़ लिया गया।
आशीष राजपूत, थाना प्रभारी, स्टेशन रोड