पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

TI पर सवाल उठाने वाली SDO को पुलिस सिक्योरिटी!:अफसर पर रेत माफियाओं ने किया था हमला; अब साथ रहेंगे एक सब इंस्पेक्टर, 1 एएसआई व 4 कॉन्स्टेबल

मुरैना9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
हमला करने वालों में तीन आरोपी पकड़े। - Dainik Bhaskar
हमला करने वालों में तीन आरोपी पकड़े।
  • एसडीओ पर हमला करने वाले तीन आरोपियों को पुलिस ने किया गिरफ्तार

वन विभाग की महिला अधिकारी द्वारा रेत माफियाओं के खिलाफ की जा रही ताबड़तोड़ कार्रवाई के बाद अब पुलिस प्रशासन भी सहयोग के लिए तैयार हो गया है। महिला एसडीओ श्रद्धा पांढरे को पुलिस सुरक्षा प्रदान की है। उन्हें एक एसआई, एक एएसआई व चार कॉन्स्टेबल दिए हैं। एसडीओ पर हमला करने वाले तीन आरोपियों को भी देवगढ़ थाना पुलिस ने शुक्रवार को गिरफ्तार कर लिया।

इससे पहले सिविल लाइन थाना पुलिस ने एसडीओ को जब्त वाहन न रखने को लेकर हड़काया था। उसके बाद चिन्नौनी थाना पुलिस ने एसडीओ पर एक व्यक्ति की हत्या होने पर उसे मुखबिर बनाने का आरोप लगाया था। तीसरी घटना दो दिन पहले की है, जब पठानपुरा में एक सैकड़ा लोगों ने हमला कर दिया।

ग्रामीणों से घिरे होने पर जब एसडीओ ने देवगढ़ थाना प्रभारी को फोन लगाया, तो उन्होंने मदद नहीं की। इस दौरान एक एसएएफ के आरक्षक को भी चोट लगी थी। इस दौरान ग्रामीणों ने फायरिंग की। अवैध रेत से भरी ट्रैक्टर-ट्राॅली छुड़ा ली थी। तीन घटनाओं से पुलिस की छवि को बट्‌टा लगा है। अब, पुलिस इस छवि को सुधारने में लगी है। एसपी ललित शाक्यवार ने एसडीओ को सुरक्षा दल प्रदान किया है, जो हमेशा उनके साथ रहेगा।

7 ज्ञात व 50 अज्ञात के खिलाफ कराया था मामला दर्ज
अपने ऊपर हमला होने के बाद एसडीओ ने थाना कोतवाली में 7 ज्ञात व 50 अज्ञात आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कराया था। कोतवाली थाना पुलिस ने देवगढ़ थाने को आरोपियों की सूची देते हुए गिरफ्तार करने कहा था।

अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक रायसिंह नरवरिया ने इस बात की जानकारी दी।
अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक रायसिंह नरवरिया ने इस बात की जानकारी दी।

एएसपी को सौंपा मामला
एसपी ने मामले को एएसपी रायसिंह नरवरिया को सौंपा था। उन्होंने मामले को गंभीरता से लिया। शुक्रवार को देवगढ़ थाना प्रभारी अरुण सिंह कुशवाह ने मय टीम के साथ मुखबिर की सूचना पर दबिश दी। आरोपी सरनाम सिंह पुत्र उम्मेद सिंह सिकरवार और मरैया पुत्र भोलाराम शर्मा को लोहिकपुरा गांव से गिरफ्तार किया है। भरत सिंह पुत्र लाल सिंह को पठानपुरा से गिरफ्तार किया है।

प्लानिंग के साथ होगी कार्रवाई
एडिशनल एसपी ने बताया कि बाकी के आरोपयों की भी जल्द ही गिरफ्तारी की जाएगी। खनन माफियाओं पर नकेल कसने के लिए प्री प्लानिंग की जाएगी। इसमें माइनिंग, एसटीएफ, रेवन्यू और पुलिस के साथ मिलकर माफियाओं के खिलाफ दबिश दी जाएगी। जिससे माफिया किसी भी अधिकारी पर हमला न कर सकें।