पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

मुरैना में युवक पर दहेज प्रताड़ना का केस:3 लाख लिए फिर भी एक लाख रुपए, बाइक मांगी, नहीं दिए तो कार से ले गया और हाईवे पर घर से 4 किलोमीटर दूर छोड़ा; 7 माह बाद केस

मुरैना12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
पिता के साथ पिंकी ने थाने में शिकायत की। - Dainik Bhaskar
पिता के साथ पिंकी ने थाने में शिकायत की।

दहेज में एक लाख रुपए और बाइक की मांग पूरी नहीं होने पर ऑटो चालक पति पिंकी को धौलपुर से मुरैना कार में लेकर आया। अंबाह-मुरैना तिराहे पर धक्का मार कर सड़क पर छोड़ गया। इसके बाद वह रोते हुए पैदल ही पिता के घर 4 KM दूर रतनबसई अंबाह पहुंची। साथ ही, पति ने धमकी दी कि जब तक दहेज की मांग पूरी नहीं होती है, तब तक ससुराल नहीं आना। यह मामला 7 माह पहले का है। इसकी शिकायत नवविवाहिता ने अंबाह पुलिस में बुधवार को की है।

अंबाह तहसील के रतनबसई गांव निवासी राजवीर सिंह तोमर ने अपनी पुत्री पिंकी तोमर की शादी एक साल पहले आगई जानावाड़ी धौलपुर राजस्थान में रनवीर सिंह के पुत्र अभिषेक राजपूत से की थी। पिंकी की शादी में जो दहेज तय किया था वह उसके पिता ने पूरा दे दिया। बावजूद एक लाख रुपए व एक मोटरसाइकिल मांगी। रनवीर सिंह बेटी की शादी में पहले ही खाली हो चुके थे। वह मांग पूरी नहीं कर सके।

इस पर पिंकी के ससुराल वालों में पति के अलावा सास सीमा देवी राजपूत, ननद सपना राजपूत व देवर आशीष राजपूत उसे दहेज के लिए प्रताड़ित करने लगे। 7 माह पहले उसका पति व देवर उसे कार में बिठाकर अंबाह-मुरैना बाईपास तिराहे पर छोड़ गए। इसके साथ ही उन्होंने पिंकी से कहा कि वह ससुराल तभी आ सकेगी, जब दहेज के एक लाख रुपए व बाइक साथ में लाएगी। राजवीर सिंह के साथ बुधवार दोपहर अंबाह SDOP अशोक सिंह जादौन से मिली और आवेदन देकर ससुरालियों के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की। मामले में पुलिस द्वारा जांच की जा रही है।

SDOP को दिया आवेदन।
SDOP को दिया आवेदन।

तीन लाख रुपए व सामान पहले ही ले चुके हैं

पिंकी ने मीडिया को बताया कि दहेज में उसके पिता ने ससुराल पक्ष को 3 लाख रुपए व घर गृहस्थी का पूरा सामान दिया था। बावजूद वे उससे व उसके पिता से एक लाख रुपए नकद व मोटरसाइकिल की मांग कर रहे हैं।

शादी की पहली ही रात पीटा

पिंकी ने आवेदन में बताया कि शादी की पहली रात को ही दहेज में एक लाख रुपए नकद व मोटरसाइकिल नहीं लाने पर उसके पति ने उसके साथ मारपीट की थी। उसके बाद उसके सास-ससुर व ननद व देवर सभी मिलकर ताने देते रहे हैं। पिंकी ने बताया की उसका पति ऑटो चलाता है। शराब पीने के बाद वह आए दिन उसके साथ मारपीट करता था।

मैं गरीब हूं, कुछ अच्छी खबर आने दो, मैं करूंगा मांग पूरी

पिंकी ने आवेदन में बताया कि उसके पिता पंचायत के लोगों को लेकर उसकी ससुराल गए थे, लेकिन लड़के वाले मांग पर अड़े रहे। बाद में उसके पिता ने यह कहा था कि कुछ अच्छी खबर आने दो, मैं आपकी दहेज की इस मांग को भी पूरा करूंगा, लेकिन ससुराल वालों को सब्र नहीं था। वे उसे प्रताड़ित करते रहे। मजबूरन पुलिस की शरण में आना पड़ा।

खबरें और भी हैं...