• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Morena
  • The Bullet Fired In Harsh Fire, It Sank In The Thigh, If It Had Sunk In The Head, It Would Have Become Life

जिले में नहीं थम रहा हर्ष फायर का चलन:हर्ष फायर में चली गोली, जांघ में आकर धंसी, सिर में धंसती तो जान पर बन आती

मुरैनाएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
हर्ष फायर में युवक की जांघ में धंसी गोली - Dainik Bhaskar
हर्ष फायर में युवक की जांघ में धंसी गोली
  • मानधाता पुरा गांव में बर्थ-डे पार्टी में किया गया हर्ष फायर

जिले में हर्ष फायर की घटनाएं थमने का नाम नहीं ले रही हैंं। इससे पहले भी सोनू नामक किशोर की गोली से जान जा चुकी है। वह अपने मामा के फलदान में आया था। कल रात को भी मान्धातापुरा गांव में बर्थ-डे पार्टी में हर्ष फायर किया गया। गोली समारोह में शामिल एक युवक की जांघ में आकर धंस गई। घायल युवक का अस्पताल में इलाज चल रहा है। पुलिस ने भी इस मामले में कोई कार्यवाही नहीं की है।
मामला नगरा थाने के मान्धाता पुरा गांव का है। गांव में एक परिवार द्वारा बर्थ-डे पार्टी मनाई जा रही थी। इसी बीच उसी परिवार के एक सदस्य ने हर्ष फायर कर दिया। गोली फायर करने वाले व्यक्ति के भाई की जांघ में जाकर धंस गई। गोली लगते ही घर में चीख-पुकार मच गई। पार्टी का मजा किरकिरा हो गया। दूसरी तरफ लोगों को पुलिस का डर भी सता रहा था। लिहाजा घायल युवक को तुरंत ही पोरसा अस्पताल में भर्ती करा दिया गया। गोली का मामला देखकर व उसकी गंभीर हालत देखकर पोरसा अस्पताल के डॉक्टरों ने तुरंत ही जिला अस्पताल के लिए युवक को रैफर कर दिया। जिला अस्पताल ने भी पुलिस केस न होते देख मामला ग्वालियर जयारोग्य चिकित्सालय को रैफर कर दिया।
मौके पर पहुंची पुलिस, बिना प्रकरण दर्ज कर लौटी
घटना के तुरंत बाद पुलिस मौके पर पहुंच गई थी। पुलिस ने मामले की पड़ताल भी की। जिस घर में हादसा हुआ था, वहां को कोई भी व्यक्ति कुछ भी बोलने को तैयार नहीं हुआ। जिसके कारण पुलिस मामला दर्ज नहीं कर सकी। फिलहाल पुलिस इस मामले में जांच की बात कह रही है।
बे-मौत मारा गया था नाबालिग
16 जून को ही हर्ष फायर से शहर के शिवनगर में एक नाबालिग की जान चली गई थी। नाबालिग सोनू अपने मामा के फलदान में आया हुआ था। वह छत पर मौजूद छज्जे पर चढ़कर गली में हो रहे फलदान कार्यक्रम को देख रहा था। उसी वक्त दूल्हे के दोस्त ने अपने साथी की बंदूक लेकर बिना देखे हर्ष फायर कर दिया था। गोली सीधे नाबालिग के गले में लगी थी। गोली लगने से मौके पर ही नाबालिग की मौत हो गई थी। 20 जून को मामा की शादी थी। नाबालिग सोनू बड़े उत्साह से अपने मामा की शादी में शामिल होने आया था। लगुन टीका वाले दिन ही उसकी जान चली गई थी।

खबरें और भी हैं...