पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Gwalior
  • Morena
  • The Case Will Run Like An Adult Criminal, The People Of The Town Launched A Signature Campaign, Submitted A Memorandum, Said, Run The Case In The Fast Track Court, Hang

अंबाह में 5 साल की बच्ची की हत्या का मामला:आधार कार्ड में 2007 और स्कूल में 2005 दर्ज है आरोपी की जन्मतिथि, वयस्क अपराधी की तरह चलेगा केस; लोगों ने ज्ञापन देकर कहा- फांसी हो

मुरैना20 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
एसडीएम को ज्ञापन सौंपते लोग। - Dainik Bhaskar
एसडीएम को ज्ञापन सौंपते लोग।

अंबाह कस्बे की 5 साल की बच्ची के साथ हुए दुष्कर्म और हत्या को लेकर कस्बे के लोग आक्रोशित हैं। वह आरोपी को जल्द फांसी दिलाने की मांग कर रहे हैं। बुधवार को लोगों ने हस्ताक्षर अभियान चलाया। SDM के माध्यम से शासन को ज्ञापन सौंपा है। लोगों ने मांग की है- मामले का केस फास्ट ट्रैक कोर्ट में चलाने, पीड़ित परिवार को मुआवजा देने और परिवार को सुरक्षा देने की मांग की है। उन्होंने सरकार से यह भी मांग की है, अभी नाबालिग की उम्र 16 साल तक है, इसे घटाकर 14 साल की जाए। मांगें न मानने पर गुरुवार को अंबाह बंद करने की भी अनुमति मांगी गई है।

जांच अधिकारी मोनिका मिश्रा ने बताया, आरोपी की उम्र करीब 17 वर्ष है। उसकी आपराधिक मानसिकता को देखते हुए उसे बालिग माना जाएगा। उस पर बालिग अपराधी की तरह ही केस चलाया जाएगा। उन्होंने यह भी बताया, उसका DNA टेस्ट कराया गया है, जिसकी रिपोर्ट आना शेष है।

ज्ञापन दिखाते आक्रोशित लोग।
ज्ञापन दिखाते आक्रोशित लोग।

15 दिन के अंदर चालान पेश होगा
SDOP अंबाह अशोक जादौन ने बताया, आरोपी के आधार कार्ड में भले ही उसकी उम्र का साल 2007 है, लेकिन जब स्कूल का रिकॉर्ड खंगाला, तो उसमें उसकी जन्मतिथि 1 जनवरी 2005 निकली है। इस हिसाब से आरोपी की उम्र 17 साल की हो रही है। निर्भया केस के बाद सुप्रीम कोर्ट की नई गाइडलाइन के हिसाब से उसे बालिग ही माना जाएगा। उसका चालान हम 15 दिन में पेश कर देंगे। बलात्कार की धारा उस पर लगी रहेगी, लेकिन पुष्टि पीएम रिपोर्ट आने के बाद ही होगी। उसका केस फास्ट ट्रैक कोर्ट में चलाएंगे।

क्राइम पेट्रोल देख रची साजिश उलटी पड़ी:ग्वालियर में शराब ठेकेदार के बेटे ने दुश्मनों को फंसाने के लिए खुद पर चलवाईं गोलियां, CCTV और फायरिंग करने वाले दोस्तों ने खोली पाेल

खबरें और भी हैं...