विधायक का केंद्रीय मंत्री को पत्र:लूट-अंधे कत्ल का खुलासा नहीं, मैंने बुलाया तो एसपी मौके पर ही नहीं आए

मुरैना6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
विधायक सूबेदार सिंह रजौधा ने केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर को पत्र लिखकर दोनों मामलों में व्यक्तिगत संज्ञान लेने की गुजारिश की। - Dainik Bhaskar
विधायक सूबेदार सिंह रजौधा ने केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर को पत्र लिखकर दोनों मामलों में व्यक्तिगत संज्ञान लेने की गुजारिश की।

जौरा विधानसभा क्षेत्र में लूट व अंधे कत्ल की गुत्थी न सुलझने से खफा विधायक सूबेदार सिंह रजौधा ने केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर को पत्र लिखकर कहा है कि पुलिस की नाकामी से जनता में आक्रोश है और विभाग के मुखिया एसपी सुनील कुमार पांडेय की स्थिति यह है कि उन्हें मौके पर फोन करके बुलाया तो यह कहते हुए- उन्होंने मना कर दिया परंपरा गलत पड़ जाएगी।

यहां बता दें कि कैलारस कस्बे में 6 अप्रैल को सरापुा कारोबारी पांडूराम पुत्र दांमो जाधव के सिर पर धारदार हथियार से प्रहार कर तीन अज्ञात लुटेरे लाखों रुपए का सामान लूटकर ले गए। इसी प्रकार 17 अप्रैल को शेखपुर गांव में रात 12 बजे राजकुमार त्यागी का अज्ञात लोगों ने कत्ल कर दिया। इन दोनों मामलों की गुत्थी सुलझाने में पुलिस असमर्थ रही है।

विधायक को भीड़ ने घेरा तो एसपी को कॉल किया, आने से किया मना: विधायक ने केंद्रीय मंत्री तोमर को लिखे पत्र में कहा है कि जब अंधे कत्ल के मामले में मैं मौके पर मैं मौके पर पहुंचा तो आक्रोशित भीड़ ने मुझे घेर लिया। जब मैने दोनों के संबंध में एसपी मुरैना से मोबाइल बात की और उन्होंने मौके पर आने के लिए कहा तो उन्होंने कह दिया कि इससे गलत परंपरा पड़ जाएगी। इतना ही नहीं थाना प्रभारी कैलारस ओपी आर्य भी आधा घंटे बाद मौके पर आए। पुलिस अफसरों व टीआई की कार्यप्रणाली से जनता आहत है। अत: इन दोनों मामलों के जल्द से जल्द खुलासे के लिए आप आला पुलिस अफसरों से चर्चा कर कार्रवाई करने का कष्ट करें।

खबरें और भी हैं...