आदिवासियों ने लिया सत्याग्रह का संकल्प:वन भूमि पर कृषि पट्टे की मांग को लेकर आदिवासी करेंगे गांधीवादी आंदोलन

मुरैना22 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • गुरुवार को बौलाज गांव में 11 गांव के सहरिया आदिवासियों ने लिया सत्याग्रह का संकल्प

वन भूमि पर खेती के लिए पट्टे देने समेत सामुदायिक पट्‌टे दिए जाने का मु्ददा सहरिया आदिवासियों के बीच तूल पकड़ गया है। गुरुवार को बौलाज में 11 गांव की पंचायत में इस बिरादरी के लाेगों ने एलान किया कि वह अपना हक पाने के लिए गांधीवादी तरीके से सत्याग्रह करेंगे। सबलगढ़ के बौलाज में गुरुवार को 11 गांव के आदिवासियों की पंचायत में एकता परिषद के जिला समन्यक उदयभान सिंह परिहार ने कहा कि वन विभाग ने जंगल की जमीनों पर बरसों से काबिज सहरिया आदिवासियों को बेदखल कर दिया। इससे उनके समक्ष आजीविका का संकट खड़ा हो गया है।

वन भूमि पर खेती के लिए पट्टे देने की मांग को लेकर आदिवासी समाज एकजुट होकर गांव-गांव में बैठक कर रहे हैं। आदिवासी मुखिया केदार आदिवासी ने कहा कि अब आदिवासी पदयात्रा निकालकर गांव गांव में जाएंगे और वन भूमि के फार्म भरने के कार्य में पूरी शक्ति से जुटेंगे। रमेश आदिवासी ने कहा कि आदिवासी समाज अपनी परंपरा अनुसार हक अधिकार पाने के लिए गांधीवादी तरीके से सत्याग्रह शुरू करेंगे।

आदिवासी बोले- फसल उजाड़ दी, हमारी झोंपड़ी तोड़ दीं
आदिवासी पंचायत में उदय राज आदिवासी ने कहा कि वर्षों से हम अपनी जमीन पर अपने परिवार का भरण पोषण करते आ रहे थे। वन विभाग ने हमारी जमीन पर खड़ी फसल उजाड़ दी तथा हमारी झोंपड़ी तोड़ दीं, हमें जमीन से बेघर कर दिया था अब हम अपने हक के लिए एकजुट होकर संघर्ष करेंगे। इस प्रस्ताव को समिति से 11 गांव के लोगों ने हाथ उठाकर पास किया। आदिवासियों ने कहा कि वन विभाग के अफसर हम लोगों को प्रताड़ित कर रहे हैं इससे आदिवासिओं में आक्रोश है। पंचायत में एसडीओपी सबलगढ़ गुरुवचन सिंह ने कहा कि सरकार ने नियम अनुसार हम आपकी हर संभव मदद करेंगे ।

एकता परिषद आपके लिए कार्य कर सरकार प्रशासन से सामने जिन समस्याओं को बता रही है सरकारी नियम के अनुसार उसमें मदद करेंगे। पंचायत में थाना प्रभारी टेटरा व रेंजर चिरोंजी लाल,रत्नाबाई ,रामदयाल ,पार्वती बाई मनीष पटेल ,देवासिंह, गिरधरलाल रावत, रामनारायण आदिवासी, मुख्य रूप से उपस्थित रहे।

खबरें और भी हैं...