पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

गिरफ्तार:बड़े भाई का मृत्यु प्रमाण पत्र दिखाकर कोर्ट से छूट जाता था शातिर चोर, पकड़ा

मुरैना8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

चोरी, लूट व डकैती की 10 से अधिक वारदातों में मोस्ट वांटेड शातिर चोर सोनू जाटव काे कोतवाली पुलिस ने मंगलवार की सुबह 8 बजे शमशाबाद से गिरफ्तार किया है। पकड़े गए बदमाश के संबंध में यह तथ्य उजागर हुआ है कि वह गिरफ्तारी के बाद बदला हुआ नाम लिखवा देता था।

बाद में बड़े भाई संजू का मृत्यु प्रमाण-पत्र पेश कर कोर्ट कार्रवाई से बच जाता रहा। मुरैना, जौरा व सबलगढ़ में चोरी व लूट व डकैती की 10 वारदातों में नामजद शातिर चोर सोनू पुत्र वेदरिया जाटव की गिरफ्तारी के लिए पुलिस 10 साल से परेशान थी।

सोनू के एक साथी के पकड़े जाने के बाद टीआई कोतवाली अजय चानना ने प्रधान आरक्षक किशन सिंह को सोनू जाटव की तलाश के लिए शमशाबाद भेजा। पुलिस ने वहां कोल्ड स्टोर के पास एक कबाड़ी की मदद से सोनू का घर पता किया और मंगलवार की सुबह 8 बजे दूसरी दबिश में सोनू को दबोच लिया।

पूछताछ के दौरान पता चला कि आरोपी सोनू जाटव, पकड़े जाने के बाद अपने नाम की जगह बड़े भाई संजू जाटव का नाम लिखवा देता था। कोर्ट में मामला पहुंचने पर संजू का मृत्यु प्रमाण-पत्र पेश कर सजा से बच जाता था। एक अन्य कार्रवाई में रामपुर कलां थाना प्रभारी सुनील बनौरिया ने वारंटी लाला उर्फ नागेन्द्र पुत्र रमेश चंद्र उपाध्याय उम्र 18 साल निवासी रामपुरकलां को गिरफ्तार किया है।

खबरें और भी हैं...