पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

पुलिस कार्रवाई:शिक्षक बनने फर्जी अंकसूची पेश करने वाला युवक पकड़ा

मुरैना3 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
कमल सिंह मीना - Dainik Bhaskar
कमल सिंह मीना
  • साल 2006 में दर्ज 420 के मुकदमे का आरोपी ग्वालियर से दबोचा

संविदा शिक्षक बनने के लिए 2006 में फर्जी अंकसूची पेश करने के आरोपी व 5000 रुपए के इनामी कमल सिंह मीना को पोरसा पुलिस ने एसटीएफ की मदद से गिरफ्तार किया है। इस मामले में शिक्षा विभाग ने 29 लोगों के खिलाफ धोखाधड़ी का अपराध दर्ज किया था।

जानकारी के मुताबिक, 15 साल पहले 2006 में शिक्षा विभाग ने पोरसा थाने में 29 युवकों के खिलाफ दफा 420,468 व 471 का अपराध पंजीबद्ध किया था। 13 आरोपियों को कोर्ट से जमानत मिल गई और 3 आरोपियों को पुलिस ने 2020 तक गिरफ्तार कर लिया था।

5000 रुपए के इनामी आरोपी कमल सिंह मीना पुत्र कलुआराम मीना 38 साल निवासी सलेमपुर थाना रामपुरकलां को एसटीएफ ने ग्वालियर से गिरफ्तार कर पोरसा पुलिस को सौंप दिया। एसआई शिवम सिंह चौहान के मुताबिक इस आरोपी ने संविदा शिक्षक बनने के लिए आवेदन के साथ जाली अंकसूची संलग्न की थी जिसे जांच उपरांत फर्जी पाया था। उस आधार पर कमल सिंह मीना काे पुलिस ने अपराध क्रमांक 172/2006 में धोखाधड़ी का मुलजिम बनाया था। पुलिस की दबिश के कारण कमल सलेमपुर छोड़कर ग्वालियर में नौकरी करने लगा था। एसटीएफ ने 6 महीेने की मेहनत के बाद इस आरोपी को खोज पाया।

खबरें और भी हैं...