पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Gwalior
  • 110 Days Later, Curfew Was Imposed In The City Again For A Week, If You Found Unnecessary Roaming, Then You Will Have To Do Coved Duty For 3 Days.

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कोरोना काल:110 दिन बाद शहर में एक सप्ताह के लिए फिर कर्फ्यू लगाया फालतू घूमते मिले तो 3 दिन तक कोविड ड्यूटी करनी होगी

ग्वालियर10 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • कोरोना का कहर बिगड़ते हालातों के बीच संक्रमण की चेन तोड़ने के लिए प्रशासन ने उठाया सख्त कदम, 21 जुलाई तक रहेगी ऐसी सख्ती
  • हर तरह की मेडिकल सुविधाओं के लिए आने-जाने की छूट रहेगी

तेजी से बढ़ रहे काेरोना संक्रमण को रोकने के लिए 110 दिन बाद एक बार फिर मंगलवार शाम 7 बजे से शहर में कर्फ्यू लागू कर दिया गया है। हालात नियंत्रित रहे तो ये व्यवस्था 21 जुलाई तक लागू रहेगी। यदि इतने दिनों में संक्रमण की चेन नहीं टूटी तो इसे आगे भी बढ़ाया जा सकता है।  इससे पहले 24 से 26 मार्च तक के लिए कर्फ्यू लगाया गया था, जब ग्वालियर में पहला कोरोना संक्रमित मिला था। जिले में मरीजों की संख्या 1273 पर पहुंच चुकी है। कोरोना संक्रमण के मामले में इंदौर, भोपाल के बाद ग्वालियर तीसरे नंबर पर है। ऐसे में काेरोना संक्रमण की चेन की तोड़ना जरूरी है। कलेक्टर कौशलेंद्र विक्रम सिंह के मुताबिक संक्रमण की चेन तोड़ने का एक ही रास्ता है कि लोग अपने घरों में रहें और उन सभी पाबंदियों का पालन करें, जो संक्रमण को रोकने के लिए जरूरी है।

इंसीडेंट कमांडर और थाना प्रभारी की जिम्मेदारी तय

धारा-144 के तहत कर्फ्यू लागू होते ही पुलिस ने मैदान में मोर्चा संभाल लिया। एसपी नवनीत भसीन ने रात में शहर का दौरा कर प्रभावी पुलिस गश्त के निर्देश दिए। प्रशासन ने सिर्फ मेडिकल इमरजेंसी वाले लोगों को ही निकलने की अनुमति दी है। जो लोग बेवजह घूमते मिलेंगे, उनकी 3 दिन के लिए कोविड-19 की व्यवस्था में ड्यूटी लगाई जाएगी। कर्फ्यू का पालन कराने के लिए हर इंसीडेंट कमांडर और थाना प्रभारी की जिम्मेदारी तय कर दी गई है। जिसके भी क्षेत्र में इसका पालन नहीं होगा, उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। इसी तरह ग्रामीण क्षेत्र के लोगों को भी बिना जरूरी काम के शहर में नहीं आने दिया जाएगा।

सुबह 6 से 10 बजे तक ही मिलेगा दूध और ब्रेड

बाजार

दूध, ब्रेड, अंडा, फुटकर मेडिकल स्टोर व सभी पेट्रोल पंप सुबह 6 से 10 बजे तक खुल सकेंगे। दवा की थोक दुकानें शाम 4 बजे तक खुलेंगी। सब्जी, फल, पीडीएस वितरण, किराना और होम डिलेवरी को लेकर अलग से आदेश जारी होगा। जब तक नया आदेश जारी नहीं होता, ये सब बंद रहेगा। शराब दुकान, होटल, रेस्टारेंट, मॉल, सभी बाजार बंद रहेंगे। फिलहाल होम डिलेवरी नहीं होगी। जरूरतमंद डीपीओ राजीव सिंह (94251-36317) से संपर्क कर सकते हैं।
आना-जाना

कर्फ्यू के कारण लोगों का घर से निकलना प्रतिबंधित रहेगा। जो बिना कारण के घूमता मिलेगा, उसकी ड्यूटी 3 दिन के लिए कोरोना वॉलेंटियर्स के रूप में लगाई जाएगी। शहर में आने और यहां से बाहर जाने पर भी रोक रहेगी। सिर्फ मेडिकल इमरजेंसी की स्थिति में ही आने-जाने की अनुमति दी जाएगी।
दफ्तर

राज्य और केंद्र सरकार के दफ्तर खुलेंगे। अफसर पूरे आएंगे पर कर्मचारी कम। पब्लिक का प्रवेश बंद रहेगा। शहरी क्षेत्र में पंजीयन विभाग रजिस्ट्री नहीं करेगा।
स्वास्थ्य

नर्सिंग होम, सरकारी और प्राइवेट स्वास्थ्य सेवाएं रोज की तरह चलेंगी। यहां पर संचालित दवा व अन्य दुकानें भी खुल सकेंगी।
इंंडस्ट्रीज

सभी इंडस्ट्रीयल एरिया में उद्योग चालू रखे जाएंगे। यहां काम करने वाले श्रमिक व अन्य का कोविड टेस्ट प्रबंधन द्वारा कराया जाएगा। साथ ही उनके आने जाने की व्यवस्था भी प्रबंधन करेगा।
ट्रांसपोर्ट

माल वाहक वाहन पूरी छूट के साथ आ जा सकेंगे। लेकिन दूसरे राज्य और जिलों से सवारी व प्राइवेट वाहनों के आने जाने पर रोक रहेगी। शहर में भी सवारी वाहन नहीं चलेंगे।
गैस/पेट्रोल पंप

शहर की सभी गैस एजेंसियां खुली रहेंगी और सिलेंडरों का वितरण भी होगा। लॉकडाउन के दौरान अलग-अलग क्षेत्र के 21 पेट्रोल पंप अपने तय समय तक खुल सकेंगे।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- वर्तमान परिस्थितियों को समझते हुए भविष्य संबंधी योजनाओं पर कुछ विचार विमर्श करेंगे। तथा परिवार में चल रही अव्यवस्था को भी दूर करने के लिए कुछ महत्वपूर्ण नियम बनाएंगे और आप काफी हद तक इन कार्य...

    और पढ़ें