पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Gwalior
  • 14 Days Ago The Gangsters Who Killed Two ASIs Of Punjab Police By Firing Bullets Were Caught From Dabra

डबरा में छुपे थे पंजाब के गैंगस्टर, दो गिरफ्तार:14 दिन पहले पंजाब पुलिस के दो ASI की गोलियों से भूनकर हत्या करने वाले बदमाश डबरा से पकड़े गए

ग्वालियर4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पंजाब पुलिस ने ट्वीट कर की पुष� - Dainik Bhaskar
पंजाब पुलिस ने ट्वीट कर की पुष�
  • गैंगस्टर की मदद करने में एक युवक को भी साथ ले गई है पंजाब पुलिस

14 दिन पहले लुधियाना से 45 किलोमीटर दूर जगरांव शहर में दो पुलिस सहायक उपनिरीक्षक की ताबड़तोड़ गोलियां मारकर हत्या करने वाले गैंगस्टर को पंजाब पुलिस ने ग्वालियर के डबरा से गिरफ्तार किया है। इनके साथ ही डबरा के एक युवक को भी पुलिस उठाकर साथ ले गई है। उस पर बदमाशों को छुपाने में मदद का आरोप है। शनिवार शाम को पंजाब पुलिस ने अपने ट्वीटर पर दोनों बदमाशों बलजिंदर सिंह, दर्शन सिंह की गिरफ्तारी की पुष्टि की है। तीसरे युवक के बारे में कोई सूचना नही हैं। यहां से युवक के परिजन लुधियाना के लिए निकल गए हैं।

RPF (रेलवे पुलिस फोर्स) कमाण्डेंट आलोक कुमार ने बताया कि डबरा के चीनोर रोड निवासी हरचरण चन्ना सरदार अपने दो पहचान वाले युवकों को ट्रेन में बैठाने के लिए शुक्रवार शाम डबरा रेलवे स्टेशन आए थे। ट्रेन आती उससे पहले ही तीन पुलिस के वाहन वहां आकर रूके। गाड़ियों में से करीब 12 से 15 पुलिस जवान और अफसर उतरे और हरचरण व उसके साथ आए दोनों युवकों को पकड़ा और जबरन ले जाने लगे। जब यह सूचना मिली तो RPF का बल वहां पहुंचा और स्थिति को नियंत्रण में लिया। RPF ने जब उन्हें रोकना चाहा तो उन्होंने बताया कि वह पंजाब पुलिस, पंजाब इंटेलीजेंस स्क्वॉड व CIA के अफसर हैं। इनमें से दो की तलाश उन्हें लुधियाना के पास जगरांव शहर में दो पुलिस कर्मियों की हत्या में है। इसके बाद वह तीनों को अपने साथ ले गए। तीसरा युवक डबरा में मीडियाकर्मी बताया गया है। शनिवार शाम को पंजाब पुलिस ने ट्वीटर पर ग्वालियर के डबरा से दो हत्या आरोपियों को गिरफ्तार करने की पुष्टि की है।

यह है पूरा मामला

  • 15 मई को पंजाब के लुधियाना से 45 किलोमीटर दूर जगरांव शहर में CIA में पदस्थ ASI भगवान सिंह, ASI दलविंदर सिंह अपने साथी होमगार्ड जवान राजविंदर के साथ सर्चिंग पर थे। तभी नवीन मंडी के पास एक सफेद कार से कुछ लोग काले रंग का बैग निकालकर केंटर (ट्रक) नंबर PB04 AD-2526 में रख रहे थे। जब पुलिस टीम पास पहुंची तो उसमें गैंगस्टर जयपाल फिरोजपुरिया बैठा दिखा। पुलिस ने घेरा तो बदमाशों ने चारों तरफ से उन पर ताबड़तोड़ फायरिंग कर दोनों ASI की हत्या कर दी थी। गोलीबारी में भगवान सिंह के सिर में गोली लगने से मौके पर ही मौत हो गई थी। जबकि दलविंदर सिंह ने अस्पताल में दम तोड़ा। घायल होमगार्ड जवान राजविंदर ने भागकर अपनी जान बचाई।

ग्वालियर पुलिस को नहीं दी सूचना

  • शुक्रवार को पंजाब पुलिस की टीम आई और डबरा स्टेशन से हत्याकांड को अंजाम देने वाले दो गैंगस्टर बलजिंदर सिंह व दर्शन सिंह सहित डबरा निवासी हरचरण चन्ना सरदार को भी साथ ले गए हैं। SP ग्वालियर अमित सांघी का कहना है कि पंजाब पुलिस ने दबिश की खबर ग्वालियर पुलिस को नहीं दी थी। पर शनिवार को पंजाब पुलिस ने अपने ट्‌वीटर पर दोनों आरोपियों के फोटो सहित गिरफ्तारी की पुष्टि की है। पर डबरा के हरचरण का कोई जिक्र नहीं किया है। उनके परिजन उनकी तलाश में पंजाब पहुंच रहे हैं।
खबरें और भी हैं...