पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Gwalior
  • 1586 Crore Loan On 32 Thousand 500 Street Vendors And Entrepreneurs, 70% Installments Are Not Able To Repay

कोरोना का इफेक्ट:32 हजार 500 स्ट्रीट वेंडर और उद्यमियों पर 1586 करोड़ का लोन, 70% किश्तें भी नहीं चुका पा रहे

ग्वालियरएक महीने पहलेलेखक: अभिषेक शर्मा
  • कॉपी लिंक
  • सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योगों को संक्रमण के कारण ज्यादा परेशानी

कोरोना संक्रमण के कारण सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योगों को सबसे बड़ा झटका लगा है। स्थिति ये है कि मार्च 2020 सेे 2021 के बीच लिए गए लोन की किश्तें भी कारोबारी नहीं चुका पा रहे हैं। केंद्र सरकार ने अप्रैल 2020 से अगस्त 2020 तक लिए गए लोन पर मोरेटोरियम पीरियड का लाभ दिया था। यानी लोन की किश्तें चुकाने के लिए वक्त दिया गया, लेकिन अब यह पीरियड समाप्त हो चुका है। ग्वालियर में स्ट्रीट वेंडर और प्लांट-मशीनरी लगाकर उद्यम खड़ा करने वाले 32 हजार 500 लोगों को 1586 करोड़ 72 लाख रुपए का लोन दिया गया है। इनमें से 70% लोन चुकाने की स्थिति में नहीं हैं। लीड बैंक मैनेजर ने इसकी पुष्टि की है।

उत्पादन 70% तक गिर गया, लोन चुकाने का दबाव

केस 1- आमदनी बंद: बाराघाटा औद्योगिक क्षेत्र में गत्ते-कार्टून और कागज से उत्पाद बनाने वाले सोबरन सिंह तोमर ने कहा कि उन्होंने एक निजी बैंक से 21 लाख रुपए का लोन लिया था। बीते एक साल से फैक्ट्री में उत्पादन 15 से 30% से ऊपर नहीं हो पाया है। हर महीने 36 हजार रुपए की किश्त भरने का दबाव है।

केस 2- उत्पादन 30% : तानसेन नगर औद्योगिक क्षेत्र में रेलवे के कलपुर्जे बनाने वाले आशीष वैश्य ने बताया कि उन्होंने 50 लाख रुपए का लोन लिया था। मोनेटोरेियम पीरियड खत्म होने के कारण उन्हें बीते महीनों और वर्तमान मिलाकर कुल 80 हजार रुपए की किश्त चुकानी पड़ेगी। जबकि उत्पादन 30% से अधिक नहीं कर पा रहे हैं।

लोन चुकाने की स्थिति में नहीं कारोबारी
^ज्यादातर कारोबारियों के उद्योग-धंधे एक साल से बंद हैं। ऐसे में अधिकतर उद्यमी लोन चुकाने की स्थिति में नहीं है इसलिए उनके लोन को रिस्ट्रक्चर करने के लिए लीड बैंक सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया के साथ ही अन्य सभी बैंक बात कर रही हैं।
-सुशील कुमार, लीड बैंक मैनेजर

नोट- इस तरह की दिक्कतें बाराघाटा, महाराजपुरा, तानसेन नगर, डॉ.श्यामा प्रसाद मुखर्जी औद्योगिक क्षेत्र, मालनपुर और बानमोर औद्योगिक क्षेत्रों के लगभग सभी उद्यमियों को हो रही है।

खबरें और भी हैं...