पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

अस्पतालों की मनमानी:पांच दिन में 168 बार शुगर जांच, डॉक्टर बोले- मरीज में छेद ही छेद कर दिए होंगे

ग्वालियरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

कोविड अस्पतालों में मरीजों से मनमाने बिल वसूले जाने की शिकायतों पर सीएमएचओ डॉ. मनीष शर्मा ने डॉ. प्रतीक दुबे और बाबू राजेंद्र पाल के साथ शनिवार रात थाटीपुर चौराहे के पास संचालित आरोग्यम द मेडीसिटी हॉस्पिटल और भारत हॉस्पिटल का निरीक्षण किया। इस दौरान उन्हें बिलों में गड़बड़ी मिलीं। सीएमएचओ ने दोनों अस्पतालों में बिल बुक सहित कई रिकॉर्ड जब्त कर लिए हैं।

आरोग्यम द मेडीसिटी हॉस्पिटल में डॉ. प्रतीक दुबे ने जब एक मरीज के बिल चेक किए तो पाया कि 100 रुपए के हिसाब से 5 दिन में उसके 168 बार सैंपल लिए गए। यह देखकर उन्होंने अस्पताल के स्टाफ शत्रुघ्न मिश्रा से पूछा कि यह 5 दिन में इतनी जांचें किस चीज की करा ली तो उसने जवाब दिया कि शुगर की जांच की गई होगी। डॉ. दुबे बोले-5 दिन में 168 बार सिर्फ शुगर की जांच की, मरीज की हालत क्या हुई होगी? पूरे दिन क्या सैंपल ही लेते रहे हो? यह सुनकर सीएमएचओ बोले 5 दिन में 168 बार शुगर की जांच की है, तुमने तो मरीज के पूरे शरीर में छेद ही छेद कर डाले होंगे।

यह भी नहीं पता कि जांच कितनी बार करनी चाहिए। आयुष्मान कार्डधारी मरीजों से भी पैसे लिए जा रहे थे। डॉक्टर से लेकर कोई भी स्टाफ पीपीई किट की जगह एप्रिन पहने मिला। यह देखकर डॉ. दुबे ने डॉक्टर और स्टाफ से कहा इसे पीपीई किट नहीं कहते हैं और आप मरीज से 1500 रुपए वसूल रहे हो। मरीज की चिंता नहीं है तो अपनी ही कर लो। स्टाफ ने बताया कि यह हॉस्पिटल डॉ. चिंकी गर्ग के नाम रजिस्टर्ड है। वह इंदौर पीजी करने के लिए गईं हैं। यहां 11 मरीज भर्ती मिले।

आईसीयू का शुल्क 6 हजार और ले लिए 7 हजार

भारत हॉस्पिटल में डॉ. प्रतीक दुबे ने रिकॉर्ड चेक किया तो कोविड मरीज आईसीयू में सिर्फ एक दिन ही भर्ती रहा। उन्होंने रिसेप्सनिष्ट से पूछा कोविड आईसीयू का चार्ज किया है, वह बोली 6000 रुपए। डॉ. दुबे बोले, फिर मरीज से 7 हजार रुपए किस बात के ले लिए। आयुष्मान कार्डधारी मरीज फ्री हैं और आपने लक्ष्मी नामक मरीज से 5 हजार रुपए ले लिए।

सीएमएचओ ने रेट लिस्ट देखकर स्टाफ से पूछा सामान्य मरीज के लिए जनरल वार्ड का शुल्क 1500 रुपए और आईसीयू का 3 हजार तथा कोविड के लिए जनरल वार्ड का शुल्क 3000 हजार और आईसीयू 6000 रुपए वसूल रहे हो तुम्हें यह नहीं मालूम कि सामान्य शुल्क से 40% से अधिक कोविड मरीज से शुल्क नहीं लिया जा सकता है। स्टाफ डॉक्टर और अस्पताल के स्टाफ की सूची नहीं दे पाया।

खबरें और भी हैं...