पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

कोरोना का कहर:शहर में 2112 एक्टिव मरीज, लेकिन अस्पतालों में सिर्फ 1407 पलंग इसलिए घर पर कर रहे आइसोलेट

​​​​​​​ग्वालियर11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
संकेतात्मक फोटो
  • जिले में संक्रमण दर 17.81 पर पहुंची, मरीजों की बढ़ती संख्या के बावजूद नहीं की तैयारी

शहर में कोरोना संक्रमण की दर जुलाई में 6.41 थी, जो सितंबर में बढ़कर 17.81 पहुंच गई है। इसके बाद भी जिम्मेदार अधिकारी संक्रमण को स्वास्थ्य सेवाओं का विस्तार नहीं कर पाए हैं। स्थिति यह है कि मंगलवार को शहर में 2112 एक्टिव मरीज थे लेकिन सरकारी और निजी अस्पतालों में सिर्फ 1407 पलंग की व्यवस्था है। इस कारण प्रशासन ज्यादातर मरीजों को होम आइसोलेट कर रहा है। एक दिन पहले तक 710 मरीज होम आइसोलेट थेे।

पूर्व में जिला प्रशासन ने होम क्वारेंटाइन पर ही पूर्ण रूप से रोक लगा दी थी। वहीं दूसरी ओर कागजों में दिखाने के लिए स्वास्थ्य विभाग ने पांच अस्पतालों में मरीजों के भर्ती करने की व्यवस्था होने का दावा किया है। इनमें कुछ में ऑक्सीजन देने की भी सुविधा है, लेकिन हकीकत यह है कि इन अस्पतालों में केवल बिना लक्षण वाले मरीजों को ही भर्ती करने के लिए कहा गया है।

कहां कैसी खामी
भर्ती मरीजों की परेशानी गर्मी के कारण नींद नहीं आती
दुल्लुपुर निवासी 20 वर्षीय युवक को श्रमोदय विद्यालय में भर्ती किया गया है। उसने बताया कि भोजन तो समय पर मिलता है, लेकिन बीमारी के कारण काफी कमजोरी आ गई है। कई बार कहने के बाद भी दूध नहीं दिया जा रहा। दिन हो या रात, यहां इतनी गर्मी रहती है कि नींद नहीं आती।

डिस्चार्ज हुए मरीजों की परेशानी छह दिन बाद कहा, घर जा सकते हो
पवन विहार काॅलोनी के 65 वर्षीय वृद्ध को खांसी की शिकायत थी। जांच में पॉजिटिव आने के बाद जिला अस्पताल में भर्ती किया गया। छह दिन बाद ही उन्हें डिस्चार्ज कर दिया गया। उन्होंने बताया, अभी भी उन्हें खांसी की समस्या है। चलने पर सांस भी फूलती है।

होम क्वारेंटाइन मरीजों की परेशानी सांस लेने में तकलीफ है, क्या करूं, पता नहीं
शहीद गेट निवासी 30 वर्षीय युवक को सोमवार से सांस लेने में तकलीफ हो रही है। उसने बताया कि रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद से किसी भी डाॅक्टर ने उससे संपर्क नहीं किया। वह निजी चिकित्सक से परामर्श कर दवाईयों का सेवन कर रहा है।

किस अस्पताल में क्या स्थिति

यहां आक्सीजन सप्लाई की सुविधा है।
यहां आक्सीजन सप्लाई की सुविधा है।

बिना लक्षण वाले मरीज भर्ती

नोटः आंकड़े 14 सितंबर शाम चार बजे तक के हैं
नोटः आंकड़े 14 सितंबर शाम चार बजे तक के हैं

निजी अस्पतालों में पलंग और भर्ती मरीजों की स्थिति

मुरार प्रसूति गृह में भर्ती 5 महिलाएं संक्रमित, ट्राॅमा के नोडल अधिकारी व आरएमओ की पत्नी पाॅजिटिव
रार प्रसूति गृह में फिर से कोरोना संक्रमण का विस्फोट हुआ है। मंगलवार को जारी रिपोर्ट में पांच महिलाओं में संक्रमण की पुष्टि हुई। जिला अस्पताल के आरएमओ के बाद उनकी पत्नी और लैब टेक्नीशियन की जांच रिपोर्ट भी पॉजिटिव आई है। जीआरएमसी के मेडिसिन विभाग के पूर्व विभागाध्यक्ष 75 वर्षीय डाक्टर भी जांच में पॉजिटिव निकले। सेंट्रल जेल में बंद कैदी भी संक्रमित निकला है। एयरफोर्स के कर्मचारी व उनकी पत्नी भी पॉजिटिव आए हैं।

ट्राॅमा सेंटर के नोडल अधिकारी भी संक्रमण की चपेट में हैं। मंगलवार को जांच रिपोर्ट में मुरैना में पदस्थ राज्य कर अधिकारी की पत्नी व बेटा भी पॉजिटिव आए हैं। वे एमपीसीटी हाॅस्पिटल में भर्ती हैं। उनके अलावा आईआईटीटीएम के ऑफिस असिस्टेंट के 70 वर्षीय पिता भी पॉजिटिव आए हैं। एसपी कार्यालय में पदस्थ निरीक्षक, थाना अजाक्स और डीआईजी कार्यालय में पदस्थ आरक्षक, एसटीएफ डीएसपी का बेटा, एसबीआई सिटी सेंटर में पदस्थ चीफ मैनेजर, डाकघर (मुरार) अधिकारी, नगर निगम सब-इंजीनियर, मप्र पर्यटन निगम का कर्मचारी, जेकेटायर में कर्मचारी संक्रमित पाए गए हैं।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- समय की गति आपके पक्ष में हैं। आपकी मेहनत और आत्मविश्वास की वजह से सफलता आपके नजदीक रहेगी। सामाजिक दायरा भी बढ़ेगा तथा आपका उदारवादी रुख आपके लिए सम्मान दायक रहेगा। कोई बड़ा निवेश भी करने के लिए...

और पढ़ें