मोदी को चिट्‌ठी, इस्लाम अपनाने की चेतावनी!:ग्वालियर के ब्राह्मण परिवार ने लिखा; SC-ST एक्ट में फंसाने की धमकी देता है पड़ोसी, हिंदू संगठन भी चुप, लगता है कि मुस्लिम समाज ही मदद करेगा

ग्वालियर5 महीने पहले
सोशल मीडिया पर वायरल पत्र जिसमें पीड़ित परिवार ने इस्लाम धर्म अपनाने की चेतावनी दी है।

ग्वालियर में ब्राह्मण परिवार के 25 सदस्यों ने पड़ोसी हिंदू परिवार से ही तंग होकर इस्लाम अपनाने की चेतावनी दी है। परिवार ने PM नरेंद्र मोदी को पत्र लिख कर कहा है कि उनके पड़ोस में रहने वाला उमरैया परिवार उन्हें काफी परेशान करता है। कभी भी मारपीट करना, धमकाना और थाने में एससी-एसटी एक्ट में फंसाने की धमकी देता है। पड़ोसी परिवार में कुछ सदस्य हिंदू सेना, एक भाजपा में सदस्य भी हैं, जिसकी वजह से उनकी हिंदू संगठन और पुलिस ही नहीं सुन रही, इसलिए उन्हें मुस्लिम बनने की अनुमति दी जाए। ऐसे में मुस्लिम समाज उनकी मदद करेगा।

साथ ही ग्वालियर DM को भी ज्ञापन दिया गया है। पंडित परिवार के ऐसा करने पर पुलिस अफसरों ने उनको समझाया है कि वह ऐसा विचार त्याग दें। साथ ही विवेक से काम लें। पूरा प्रशासन उनके साथ खड़ा है, जो लोग उन्हें परेशान करते हैं उनके खिलाफ एक्शन के लिए कहा है।

माधवगंज के आपागंज स्थित पूजा विहार कॉलोनी में पंडित अजय शर्मा पुत्र सुरेश शर्मा अपने परिवार के साथ रहते हैं। उनके आसपास कुछ हिंदू परिवार रहते हैं। पर एक उमरैया परिवार उन्हें काफी परेशान करता है। कभी भी मारपीट करना, धमकाना और थाने में एससी-एसटी एक्ट की झूठी शिकायत कर मानसिक प्रताड़ना दे रहा है। अभी यह हालत हो गई है कि अजय और उनके परिवार के 25 लोग दहशत में रहने को विवश हैं। आरोप है कि पुलिस भी उनकी ही सुनती है। इस परिवार के कुछ सदस्य हिंदू सेना, एक भाजपा में सदस्य भी हैं। यही कारण है कि उनका वहां वर्चस्व है।

अजय शर्मा। इन्होंने ही हिंदू धर्म छोड़कर मुस्लिम धर्म अपनाने की बात कही है।
अजय शर्मा। इन्होंने ही हिंदू धर्म छोड़कर मुस्लिम धर्म अपनाने की बात कही है।

रोज-रोज की प्रताड़ना से तंग आकर अजय और उनके परिवार ने 9 जुलाई को इस मामले में देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखा था। इसमें अपने परिवार के 25 सदस्यों के साथ हिंदू धर्म छोड़कर मुस्लिम धर्म अपनाने की बात कही थी। इसके साथ ही ग्वालियर में DM कौशलेन्द्र विक्रम सिंह, SP अमित सांघी को भी ज्ञापन दिया था।

पत्र का पता चलते ही पुलिस हरकत में आई

जब यह पत्र वायरल हुआ तो पुलिस हरकत में आई। मंगलवार को CSP लश्कर आत्माराम शर्मा ने अजय को मिलने बुलाया। उन्होंने उसे समझाया है कि DM साहब ने कहा है कि पूरा पुलिस और जिला प्रशासन उसके साथ है। उसे कोई परेशान नहीं करेगा। साथ ही बिना जांच के कोई FIR दर्ज नहीं की जाएगी। इसके बाद अजय ने पुलिस को आश्वासन दिया है कि यदि पुलिस उसका साथ देगी तो वह फिलहाल धर्म परिवर्तन का विचार मन से निकाल देगा।

उन्हें समझाया गया है

ग्वालियर एएसपी सत्येंद्र सिंह तोमर ने बताया कि इस मामले में आज दोनों पक्ष को बुलाया था। समझाया गया है कि प्रशासन और पुलिस उनकी मदद के लिए तैयार है। वो इस तरह का विचार भी मन में न बनाएं।

सोशल मीडिया पर चर्चा का विषय बना मामला

एक पंडित परिवार के इस तरह 25 सदस्यों के साथ इस्लाम धर्म अपनाने की चेतावनी देने के बाद यह मुद्दा अभी सोशल मीडिया पर छाया हुआ है। लोग इसे लेकर कहीं मुख्यमंत्री को ट्वीट कर रहे हैं तो कहीं चर्चा कर रहे हैं।

मामला सुलझ गया है
जिस परिवार ने धर्म बदलने की बात कही थी। उनकी पूरी मदद की जा रही है। अब उन्होंने ये विचार त्याग दिया है।
अमित सांघी; एसपी ग्वालियर

खबरें और भी हैं...