बीमारी का खतरा बढ़ा:30 दिन में 415 डेंगू की चपेट में, इनमें 245 बच्चे, 24 घंटे में 30 नए मरीज

ग्वालियर18 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
ग्वालियर जिले में डेंगू पीड़ितों की संख्या 442 पर पहुंची। - Dainik Bhaskar
ग्वालियर जिले में डेंगू पीड़ितों की संख्या 442 पर पहुंची।

शहर में डेंगू तेजी से फैल रहा है। गजराराजा मेडिकल कॉलेज के माइक्रो बायोलॉजी विभाग एवं जिला अस्पताल मुरार में गुरुवार को 141 संदिग्ध मरीजाें के सैंपलों की जांच में 42 को डेंगू होने की पुष्टि हुई है। इनमें से 30 ग्वालियर तथा 12 अन्य जिलों के रहने वाले हैं। जिले में डेंगू पीड़ित मरीजों की संख्या 442 पहुंच गई है। गुरुवार को मिले जिले के 30 मरीजों में से 22 बच्चे हैं। पिछले एक माह में जिले में डेंगू के 415 मरीज मिल चुके हैं जिसमें से 245 बच्चे हैं।

मुरार-सिकंदर कंपू और थाटीपुर बन रहे डेंजर जोन

डेंगू काे लेकर अभी तक महाराजपुरा, दीनदयाल नगर-पिंटाे पार्क क्षेत्र डेंजर जोन माना जाता है, लेकिन अब मुरार, थाटीपुर और सिकंदर कंपू भी डेंजर जोन बनते जा रहे हैं।

प्राइवेट लैब से नहीं मिल रही रिपोर्ट

शहर में संचालित प्राइवेट पैथोलॉजी लैब पर भी डेंगू के मरीजों की जांच हो रही है। इनमें कई मरीज डेंगू पॉजिटिव भी निकल रहे हैं लेकिन स्वास्थ्य विभाग के पास इसकी कोई जानकारी नहीं है। बीते रोज सिकंदर कंपू क्षेत्र में 5 साल के बच्चे की डेंगू के चलते मौत हो गई थी। इसकी जांच ललितपुर कॉलोनी में संचालित एक प्राइवेट लैब पर हुई थी। लैब संचालक ने इसकी जानकारी सीएमएचओ कार्यालय को नहीं दी।

सीएमएचओ ने घरों में चेक किए कंटेनर ताे मिला लार्वा

सीएमएचओ डॉ. मनीष शर्मा गुरुवार को विनय नगर सेक्टर 4 में पहुंचे, जहां उन्होंने डेंगू पीड़ित मरीज के परिजनों से चर्चा की और आवश्यक समझाइश दी। सीएमएचओ ने कई घरों और उनकी छतों पर पहुंचकर कंटेनर और पानी से भरे बर्तन चेक किए। इनमें उन्हें लार्वा मिला। इसके बाद उन्हाेंने कंटेनर और बर्तन खाली करवाए। वहीं निगमायुक्त किशोर कन्याल और सीएमएचओ डॉ. शर्मा की डेंगू को लेकर चर्चा हुई। इस दाैरान कन्याल ने निर्देश दिए कि संयुक्त रूप से डेंगू की रोकथाम के लिए प्रयास करें।

अस्पताल में मरीजों की भीड़ दिखी तो खुद उन्हें देखने लगे

सीएमएचओ डॉ. मनीष शर्मा ने गुरुवार को जिला चिकित्सालय मुरार का निरीक्षण किया। इस दौरान उन्हें मरीजों की भीड दिखी तो वे खुद ही उन्हें देखने लगे। उन्होंने मेडिसिन के 6 बेड और बढ़ाने की व्यवस्था की।

खबरें और भी हैं...