• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Gwalior
  • 50 Dengue Positive Patients Were Found In 24 Hours, 35 Are Below 18 Years Of Age, JAH Has A Long Line In OPD

ग्वालियर में डेंगू से स्थिति बिगड़ी:24 घंटे में 50 डेंगू मरीज मिले; 35 की उम्र 18 साल से कम, OPD में लंबी लाइन

ग्वालियर3 महीने पहले

ग्वालियर में बीते 24 घंटे में 72 डेंगू पॉजिटिव केस मिले हैं। इनमें से 50 सिर्फ ग्वालियर के हैं। इनमें से 35 की उम्र 18 साल से कम है। इस साल अभी तक एक दिन में सबसे ज्यादा डेंगू के केस मिलने का ये रिकार्ड है। अब जिले में कुल डेंगू के मरीज 724 हो गए हैं। साथ ही वायरल फीवर के मरीज भी तेजी से बढ़ रहे हैं। इसका असर सरकारी अस्पतालों की स्वास्थ्य सेवाओं पर पड़ने लगा है।

अंचल के सबसे बड़े अस्पताल JAH (जयारोग्य हॉस्पिटल) की OPD में पहुंच रहे मरीजों की संख्या भी बढ़ गई है। कमलाराजा हॉस्पिटल में बच्चों के इलाज की व्यापक व्यवस्था भी नहीं है, जबकि इस मामले में न्यायालय में लगी जनहित याचिका पर अस्पताल प्रबंधन और शासन को जवाब देना है।

जेएएच की ओपीडी में आजकल इस तरह लाइन लगी है
जेएएच की ओपीडी में आजकल इस तरह लाइन लगी है

डेंगू के 50 नए मरीजों में से 35 की उम्र 18 साल से कम
जयारोग्य हॉस्पिटल के माइक्रो बायॉलोजी विभाग में 179 डेंगू सैंपल की रिपोर्ट शनिवार रात को आई है। इसमें 72 डेंगू पॉजिटिव मिले हैं। इनमें से 50 ग्वालियर के हैं, शेष 22 अन्य पड़ोसी शहर भिंड, मुरैना, शिवपुरी सहित अन्य शहरों के हैं। 24 घंटे में 50 डेंगू पॉजिटिव केस बताता है कि डेंगू किस तरह फैल रहा है। डराने वाली बात यह है कि इन 50 में से 35 डेंगू पॉजिटिव की उम्र 18 साल से कम है।

38 दिन में 417 बच्चों को डेंगू होना खतरनाक
ग्वालियर में बीते 38 दिन में 500 से ज्यादा मामले डेंगू केस सामने आए हैं। हैरत की बात यह है इनमें से 417 की उम्र 18 साल से कम है। जिले में कुल डेंगू निकलने वालों में 70% बच्चे हैं। यह डराने वाला आंकड़ा है। स्वास्थ्य विभाग, जिला प्रशासन व नगर निगम की नजर इसी आंकड़े को कम करने पर लगी हुई है।

OPD में हर दिन आ रहे 2300 से 2400 मरीज
इस समय अंचल में वायरल फीवर और डेंगू काफी तेजी से फैल रहा है। लगातार मरीज बढ़ते जा रहे हैं। कोरोना से अभी राहत है तो डेंगू महामारी बनकर फैल रहा है। अभी JAH के OPD में हर दिन 2300 से 2400 मरीज हर दिन आ रहे हैं। ज्यादातर वायरल से पीड़ित होते हैं। उनमें से 200 से ज्यादा डेंगू संदिग्ध होते हैं, जिनके टेस्ट कराए जाने पर हर दिन 50 से अधिक डेंगू पॉजिटिव मिल रहे हैं।

प्लेटलेट्स की कमी होने लगी है
शहर में डेंगू के अभी तक 724 केस मिल चुके हैं, लेकिन अब ब्लड बैंक में प्लेटलेट्स की कमी हाे गई है। शहर के अधिकांश ब्लड बैंक में जम्बो प्लेटलेट्स निकालने के लिए किट उपलब्ध नहीं हैं। जयारोग्य अस्पताल और रेडक्रॉस के ब्लड बैंक ही शहर के प्राइवेट ब्लड बैंक में भी इन किट का स्टॉक कम होता जा रहा है। इस कारण मरीज के परिजन ब्लड बैंकों और अस्पतालों के चक्कर काट रहे हैं, हालांकि जयारोग्य चिकित्सालय का ब्लड बैंक और रेडक्रॉस सोसायटी मरीजों की जान बचाने के लिए पीआरपी (प्लेटलेट रिच प्लाज्मा) दे रहे हैं।

डीडी नगर, मुरार, सिकंदर कंपू बने हैं हॉट स्पॉट्स
ग्वालियर में डेंगू के मरीज सबसे ज्यादा शहर के डीडी नगर, शताब्दीपुरम, पिंटो पार्क, गोला का मंदिर, मुरार, सिकंदर कंपू में मिल रहे हैं। यह एरिया लगातार हॉट स्पॉट बने हुए हैं। यहां लगातार नगर निगम और स्वास्थ्य विभाग की टीमें पहुंचकर लार्वा की जांच कर रही हैं। स्पॉट फाइन भी किया जा रहा है। अभी तक 200 से ज्यादा लोगों को स्पॉट फाइन किया जा चुका है।

रोकथाम के प्रयास किए जा रहे हैं: कलेक्टर
इस मामले में कलेक्टर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह का कहना है कि डेंगू की रोकथाम के लिए प्रयास किए जा रहे हैं। लगातार बेड बढ़ाए जा रहे हैं। स्वास्थ्य विभाग को लगातार व्यवस्था बनाने के लिए निर्देशित किया गया है। जल्द डेंगू काबू में आ जाएगा।