• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Gwalior
  • A 10 year old Innocent Was Given Poison By His Own Step mother Mixed With Food, Died While Suffering In The Hospital, FDR Of Rs 18 Lakh Was On Eye

FD पर नजर थी, सौतेली मां ने जहर दिया:10 साल के बच्चे ने तड़प-तड़पकर दम तोड़ा; बार-बार बयान बदलने से सौतेली मां पर शक हुआ

ग्वालियर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

ग्वालियर में सौतेली मां ने 10 साल के बेटे को खाने में जहर दे दिया। बेटे की हालत बिगड़ने पर उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां अगले दिन उसने तड़प-तड़पकर दम तोड़ दिया। हत्या को खुदकुशी और हादसा बताने के लिए सौतेली मां ने पहले कहा कि खुद ही जहरीला पदार्थ खा लिया होगा, फिर कहा- सांप ने डंसा होगा। बाद में पुलिस की सख्ती के आगे उसने अपना गुनाह कबूल कर लिया। जहर की पुड़िया भी बरामद हो गई है।

पुलिस के मुताबिक, बेटे के नाम 18 लाख की FD थी, यही उसकी हत्या की वजह बनी। यह रुपए बच्चे को उसकी मां सीमा की मौत के बाद बीमा क्लेम के तौर पर मिले थे। सीमा (31) की चार साल पहले सड़क हादसे में मौत हो गई थी। सौतेली मां की नजर इन रुपयों पर थी।

23 सितंबर को अस्पताल में भर्ती कराया था
ग्वालियर उपनगर मुरार के बड़ागांव खुरैरी निवासी राजू मिर्धा (37) के 10 साल के बेटे नितिन मिर्धा की 23 सितंबर को खाना खाने के बाद तबीयत बिगड़ गई थी। वह बार-बार उल्टी कर रहा था। उसे गंभीर हालत में बिड़ला अस्पताल में भर्ती किया गया था, जहां 24 सितंबर को उसकी मौत हो गई।

डॉक्टर का कहना था कि नितिन को तेज जहर दिया गया है। इसके बाद पुलिस को सौतेली मां जूली पर शक हो गया। राजू ने जूली (32) से 27 दिसंबर 2019 शादी की थी। राजू ने पुलिस को बताया कि जूली FD के रुपयों से कुछ रुपए मांग रही थी, लेकिन उसने मना कर दिया था।

खबरें और भी हैं...