• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Gwalior
  • A Loan Of Rs 36 Lakh Was Taken Out On The Plot Of A Bullion Trader, The Trader Did Not Even Know, When The Notice Came, The Secret Of Fraud Was Revealed

ग्वालियर में सोसायटी अध्यक्ष पर FIR:सराफा कारोबारी के प्लॉट पर निकाल लिया 36 लाख रुपए का लोन, व्यापारी को पता भी नहीं चला, नोटिस आया तो धोखाधड़ी का खुला राज

ग्वालियरएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
फाइल फोटो। - Dainik Bhaskar
फाइल फोटो।
  • घटना विश्वविद्यालय थाना क्षेत्र की, पुलिस ने किया मामला दर्ज
  • बैंक अफसरों की भूमिका संदिग्ध

ग्वालियर में एक सराफा कारोबारी के प्लॉट के फर्जी दस्तावेज तैयार कर 36 लाख रुपए का लोन भी निकाल लिया गया और व्यापारी को पता भी नहीं चला। इतना ही नहीं जब लोन की एक भी किश्त नहीं भरी गई तो बैंक ने व्यापारी को नोटिस भेजा। उसकी प्रॉपर्टी पर नोटिस चस्पा कर दिया गया। इसके बाद पूरी घोखाधड़ी का खुलासा हुआ है। घटना विश्वविद्यालय थाना क्षेत्र की है। सराफा कारोबारी ने मामले की शिकायत थाने में की है। जिस पर सोमवार को पुलिस ने गृह निर्माण समिति के अध्यक्ष पर धोखाधड़ी का मामला दर्ज कर लिया है। साथ ही बुल हाउसिंग फाइनेंस कंपनी के अफसरों की भूमिका की जांच की जा रही है।

उपनगर मुरार के सदर बाजार निवासी सतीश अग्रवाल पुत्र एमएल अग्रवाल सराफा कारोबारी हैं। उनकी मुरार सदर बाजार में सतीश ज्वेलर्स के नाम से शॉप है। साल 2015 में उन्होंने ग्वालियर विकास प्राधिकरण (GDA) की योजना के तहत आनंद गृह निर्माण समिति से एक प्लॉट खरीदा था। प्लॉट खरीदने के बाद उन्होंने उसका नामांतरण भी करा लिया और उस पर निर्माण कार्य भी शुरू करा दिया।
एक नोटिस ने अरमानों पर फेर दिया पानी
सराफा कारोबारी का अरमान था कि इस प्लॉट पर वह आलीशान मकान खड़ा करें। इसी बीच उनके पास बुल हाउसिंग फाइनेंस कंपनी से एक नोटिस आया। जिसे उनके मकान पर चस्पा किया गया। जिससे पता चला कि उक्त प्लॉट पर 36 लाख का लोन निकाला गया है। जिसकी एक भी किश्त नहीं चुकाई गई है। इसका पता चला तो उन्होंने अपने स्तर पर जानकारी जुटाई तो पता चला कि इस प्लॉट को श्यामा गृह निर्माण समिति के अध्यक्ष सुरेश कुशवाह द्वारा गंगा सिंह बघेल को बेचा गया है और उन्होंने ब्रांच हेड मैनेजर बुल हाउसिंग फाइनेंस के साथ मिलकर प्लॉट पर लोन निकाला है। तत्काल मामले की शिकायत उन्होंने विश्वविद्यालय थाना में की। इस पर सोमवार को पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज किया है।
इनके खिलाफ दर्ज हुआ मामला
पुलिस ने पीड़ित कारोबारी की शिकायत की जांच के बाद गंगा प्रसाद व श्यामा गृह निर्माण समिति के अध्यक्ष सुरेश कुशवाह के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज कर लिया है। वहीं बुल हाउसिंग फाइनेंस कंपनी के ब्रांच हैड मैनेजर की भूमिका की भी जांच की जा रही है। टीआई विश्वविद्यालय थाना आनंद बाजपेई का कहना है कि मामला दर्ज करने के बाद पूरे प्रकरण की जांच कर रहे हैं कि किस-किस की इसमें भूमिका है।

खबरें और भी हैं...