रिपोर्ट में गडबड़ी:एक मरीज को पहले बताया पॉजिटिव, 2 दिन बाद मैसेज आया रिपोर्ट निगेटिव है

ग्वालियर8 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

कोरोना संक्रमण के जहां केस बढ़ रहे हैं वहीं रिपोर्ट में भी गड़बड़ी की शिकायतें मिलना शुरू हो गई हैं। ऐसा ही एक मामला तानसेन नगर में रहने वाले 39 वर्षीय विजय सक्सैना के साथ हुआ है। विजय को हल्की खांसी, जुकाम थी, जिसके चलते उन्होंने 7 जनवरी को सिविल अस्पताल हजीरा में अपना सैंपल दिया था, जिसमें उन्हें कोरोना होने की पुष्टि की गई। इसके बाद से वे होम क्वारेंटाइन हो गए।

विजय की पत्नी नेहा ने बताया कि 11 जनवरी को उनके पति के मोबाइल पर एसएमएस आया, जिसमें कोरोना की रिपोर्ट पॉजिटिव होने की बात कही गई थी। 13 जनवरी को फिर से दोबारा एसएमएस आ गया, जिसमें लिखा है कि आपका कोविड टेस्ट निगेटिव है, जिसका टेस्ट 7 जनवरी दोपहर 12:45 बजे का है। बिना सैंपल दिए उनके पति ने दोबारा सैंपल नहीं दिया है फिर पहले पॉजिटिव और फिर निगेटिव की रिपोर्ट कैसे दे दी। सीएमएचओ डॉ. मनीष शर्मा का कहना है कि सार्थक ऐप में इस तरह की परेशानी आ रही हैं।

कोरोना संक्रमण बढ़ा तो यात्री एसी कोच में सफर करने से बच रहे

कोरोना का संक्रमण बढ़ा तो यात्री एसी कोच में सफर करने से बच रहे हैं। सबसे अधिक यात्री स्लीपर क्लास व जनरल कोच में टिकट बुक कराकर यात्रा कर रहे हैं। यात्री एसी कोच में सफर करने से इसलिए बच रहे हैं क्योंकि एसी कोच बंद रहता है। इससे संक्रमण फैलने का खतरा ज्यादा है।

इंफेक्शन प्रिवेंशन प्रोटोकॉल का करें पालन: डॉ. पंकज शुक्ला

राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के संचालक डॉ. पंकज शुक्ला ने अस्पतालों में इंफेक्शन कंट्रोल और इंफेक्शन प्रिवेंशन प्रोटोकॉल का पालन करने के निर्देश सभी सीएमएचओ और सिविल सर्जन को दिए हैं। डॉ. पंकज शुक्ला ने कहा कि कोविड के नियमों का शत प्रतिशत पालन किया जाए।

खबरें और भी हैं...