पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Gwalior
  • After 60 Years, Monsoon Is So Late, It Will Last For The Second Consecutive Year In July, Rain Will Start From 10

मौसम की बेरुखी:60 साल बाद मानसून इतना लेट, जुलाई में लगातार दूसरे साल चली लू,10 से होगी बारिश की शुरुआत

ग्वालियर20 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
60 साल बाद मानसून इतना लेट हुआ है। जब राजस्थान, दिल्ली, पंजाब और पश्चिमी उप्र के कुछ हिस्सों में अब तक नहीं पहुंचा है। - Dainik Bhaskar
60 साल बाद मानसून इतना लेट हुआ है। जब राजस्थान, दिल्ली, पंजाब और पश्चिमी उप्र के कुछ हिस्सों में अब तक नहीं पहुंचा है।
  • राजस्थान, दिल्ली, पंजाब और पश्चिमी उप्र के कुछ हिस्सों में अब तक नहीं पहुंचा मानसून

60 साल बाद मानसून इतना लेट हुआ है। जब राजस्थान, दिल्ली, पंजाब और पश्चिमी उप्र के कुछ हिस्सों में अब तक नहीं पहुंचा है। इन स्थानों में अब तक मानसून नहीं पहुंचने का ही नतीजा है कि अंचल में बारिश नहीं हो रही है। 10 जुलाई के बाद ही बचे हुए स्थानों में मानसून आगे बढ़ेगा।

23 जून के बाद से मानसून ट्रफ लाइन में ब्रेक चल रहा है। इसी के कारण अंचल लू की चपेट में आ गया है। जुलाई में लगातार दूसरी साल ग्वालियर में लू चली है। पिछले साल 3 जुलाई को अधिकतम तापमान 43.2 डिग्री दर्ज किया गया था। इस दौरान लू चलने जैसे हालात बने थे। पिछले 15 दिन से शहरवासी भीषण उमस का सामना कर रहे हैं। हालांकि मौसम विभाग इसे लू की श्रेणी में नहीं मान रहा है। मौसम विभाग के अनुसार ग्वालियर के आसपास जिलों का तापमान 44 डिग्री के पास होने पर ही लू चलना माना जाता है। हालांकि बुधवार को भी प्रदेश में सबसे गर्म ग्वालियर रहा। अधिकतम तापमान 42.6 डिग्री दर्ज किया गया।

आगे क्या-10 से होगी बारिश की शुरुआत

11 जुलाई को आंध्र प्रदेश तट पर कम दबाव का क्षेत्र बनेगा। इससे 10 को अंचल में हल्की बारिश, 11 जुलाई को मध्यम से तेज बारिश का दौर शुरू हो जाएगा। -वेद प्रकाश सिंह, वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक

खबरें और भी हैं...