छुट्‌टी का असर:बाजारों में हॉकर्स के जाने के बाद सड़कों पर कचरा ही कचरा

ग्वालियरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

दीपोत्सव के दूसरे दिन सफाई कर्मचारियों की छुट्‌टी रहने का असर शहर में दिखाई दिया। घर-घर डोर-टू-डोर कचरा गाड़ियां नहीं पहुंची। महाराज बाड़ा पर दीपोत्सव के पहले सड़क पर बैठकर व्यापार करने वाले हॉकर्स के जाने के बाद दो से तीन टन कचरा चारों तरफ पड़ा नजर आया। यही हाल उपनगर ग्वालियर और मुरार के बाजारों के रहे। कुल मिलाकर 1 से 66 वार्डों में कचरा नहीं उठा।

निगम का कहना है कि 600-650 टन कचरा उठकर लैंडफिल साइट पर नहीं पहुंच सका। अब शनिवार को 450 टन कचरा दूसरे दिन का और जुड़ जाएगा। ऐसे में शनिवार का दिन ही कचरा कलेक्शन का है। क्योंकि रविवार को फिर अवकाश के कारण कचरा कलेक्शन नहीं होगा।

नगर निगम पहले से ही दीपोत्सव पर निकल रहा अतिरिक्त कचरा पूरी तरह नहीं उठा पा रहा था। दीपोत्सव के दूसरे दिन पड़वा पर तीन हजार सफाई कर्मियों का अवकाश होने से कचरा कलेक्शन करने और उठाने वाले वाहन नहीं निकले और न ही सड़कों पर झाड़ू लगी।

शहर भर में कहां क्या रहे हालात

  • बाजार: महाराज बाड़ा, उपनगर ग्वालियर, किला गेट, उपनगर मुरार, मयूर मार्केट सहित अन्य बाजारों में कचरा पड़ा रहा। क्योंकि यहां हॉकर्स, ठेला वाले सामान बेचने के बाद कचरा छोड़कर चले गए।
  • मेला मैदान और गिरवाई नाका: यहां पर आतिशबाजी की दुकानें लगाई गई थीं। दोनों जगह दुकानों के आगे और पीछे कचरा डला रहा।
  • आरआई सेंटर: सिटी सेंटर स्थित आरआई सेंटर के पास महलगांव और जेयू के आवासों का कचरा निकलकर पहुंचता है। यहां दिन भर कचरा पड़ा।
  • ढोली बुआ पुल मार्ग: महाराज बाड़ा से ढोलीबुआ पुल मार्ग की तरफ जाने वाले रास्ते में कई जगह कचरा पड़ा रहा। वहीं माधवनगर मेंं पार्क के किनारे ही कचरा आसपास में रहने वालों ने डाल रखा था।

अब अगले साल से सिस्टम में बदलाव की तैयारी

निगम अभी सफाई कर्मचारियों से दीपावली के दिन काम कराता है। दूसरे दिन उनको अवकाश मिलता है। शहर के हालात देखकर निगम के अधिकारी साल 2022 की दीपावली के लिए प्लान बनाएगा। इससे काफी कुछ कचरा उठाया जा सकता है। एक प्लान और है। इसमें दीपावली के दिन की छुट्‌टी देकर दूसरे दिन सभी कर्मचारियों को काम पर बुलाया जाएगा। यह जानकारी एक अधिकारी ने नाम न छापने पर दी है।

कचरा नहीं उठने के मामले में निगम आयुक्त किशोर कन्याल का कहना है कि दीपोत्सव के दूसरे दिन सफाई संरक्षकों की छुट्‌टी थी। इस वजह से शहर में कचरा नहीं उठ सका। शनिवार को सफाई संरक्षकों का पूरा अमला लगाकर कचरा उठवा दिया जाएगा। सभी वाहन सुबह से ही निकलेंगे। अगले साल के लिए अधिकारियों के साथ बैठकर प्लान बनाएंगे। ताकि दीपावली के दूसरे दिन भी सफाई हो सके।

खबरें और भी हैं...