पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Gwalior
  • Angry People Pelted Stones At Police Over Woman's Death Due To Car Collision, Assaulted PM House, Pointed Gun At Police

हादसे में हुई महिला की मौत पर बवाल:कार की टक्कर से महिला की मौत पर गुस्साए लोगों ने पुलिस पर किया पथराव, पीएम हाउस पर की मारपीट, पुलिस पर बंदूक तानी

ग्वालियर17 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
थीम रोड पर कार की टक्कर से महिला की मौत। कार सड़क किनारे खुदे गड्‌ढे में जा फंसी। - Dainik Bhaskar
थीम रोड पर कार की टक्कर से महिला की मौत। कार सड़क किनारे खुदे गड्‌ढे में जा फंसी।
  • पुलिस अफसरों के हस्ताक्षेप के बाद मामला हुआ शांत

शहर के कंपू थाना क्षेत्र की थीम रोड पर एक कार ने महिला को कुचल दिया। इस मामले में मृतक के परिचितों ने पुलिस को दोषी ठहराया। पहले तो उन्होंने पुलिस पर पथराव किया। इसके बाद पीएम हाउस पर पुलिस के साथ मारपीट की। मामला जब पुलिस के जवान ने गुस्साए लोगों पर रौब दिखाना चाहा तो वे बंदूक लेकर आ गए और पुलिस के जवानों पर बंदूक तक तान दी। इस मामले में गुस्साए लोगों को शांत करने में पुलिस को काफी मशक्कत करनी पड़ी। यह ड्रामा रविवार की दोपहर से देर शाम तक चलता रहा।

जानकारी के मुताबिक लीलावती बाई नाम की महिला खाना बनाने का काम करती है। वह अपने काम पर से पैदल लौटकर कर अपने घर गिरवाई जा रही थी। दोपहर के समय कंपू की ओर से आई तेज रफ्तार कार ने महिला को अपनी चपेट में ले लिया। कार की टक्कर से लीलावती के सिर और सीने में गंभीर चोटें आई, जिससे उसकी मौत हो गई। इस घटना के बाद कार सड़क किनारे विकास कार्यों के लिए खोदे गए गड्ढे में जा फंसी और मौके से चालक फरार हो गया। यह घटना की सूचना पर कंपू थाना पुलिस काफी देरी से मौके पर आई। पुलिस की लापरवाही को देखते हुए स्थानीय लोगों में आक्रोश पनप उठा। लोगों ने चक्काजाम कर दिया। पुलिस के आते ही मृतक के परिजन व प्रत्यक्ष दर्शियों से पुलिस की बहस हो गई। मृतिका के परिजनों का आरोप है कि घटनास्थल पर पुलिस देर से पहुंची। महिला का शव को उठाकर सीधे पोस्टमार्टम हाउस ले जाने लगी। जब पुलिस का विरोध किया गया। इस पर पुलिस के जवानों ने मारपीट शुरू कर दी। मृतिका के बेटे को बंदूक की बट से पीटा। हालांकि पुलिस इस तरह की किसी भी घटना से इंकार कर रही है। पुलिस का यह रवैया देखकर लाेगों ने पथराव शुरू कर दिया।

वाहन चालक काे पकड़े ने बरती लापरवाही

इस पूरे मामले में सबसे ज्यादा हैरानी की बात यह है कि गाड़ी पूरी तरह गड्ढे में फंस चुकी थी। कार में सवार दो युवक मौके से भाग निकले। पुलिस कारके नंबर के आधार पर कार मालिक को आरोपी नहीं बना रही थी। बताया जाता है कि यह कार का नंबर आदित्य नारायण सक्सेना निवासी आनंद नगर पंजीकृत है।

पीएम हाउस बना पुलिस छावनी

इसके बाद एक बार फिर से पोस्टमार्टम हाउस के बाहर मृतिका के पुत्र बृजेश बघेल और अन्य परिवार के साथ पुलिस जवानाें का विवाद हो गया। पुलिस व मृतिका के बेटे से विवाद होने पर शहर के कई थानों का पुलिस बल बुलाया गया और स्थिति को काबू में किया। मृतका के बेटे का यह भी आरोप है कि पुलिस ने उनके साथ ज्यादती की है। फिलहाल पुलिस ने मामला दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी है।

पुलिस बोली- छिपकर बचाई जान

इस पूरे मामले की विवेचना अधिकारी हेमंत पाटिल का कहना है कि बेकाबू कार ने राह चलती महिला को टक्कर मार दी और कार, सड़क किनारे खोदे गए बड़े से जाकर फंस गई। घटना के बाद मृतिका के परिजन और आसपास के लोगों ने जाम लगाया। पुलिस पर पथराव किया। जब पुलिस, महिला का शव को पीएम पर लेकर पहुंची तो वहां भी मारपीट कर बंदूक से हमला करने का प्रयास किया गया। पुलिस ने किसी तरह छुपकर अपनी जान बचाई।

खबरें और भी हैं...