• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Gwalior
  • Clouds Rained 47.5 Mm More Than The Quota So Far In The City, The Water Level Of Tigra Increased By 3.5 Feet

मानसून मेहरबान:शहर में अब तक के कोटे से 47.5 मिमी ज्यादा बरसे बादल, तिघरा का जलस्तर 3.5 फीट बढ़ा

ग्वालियर4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
तिघरा बांध भरने के लिए पेहसारी से नहर में छोड़ा गया पानी। - Dainik Bhaskar
तिघरा बांध भरने के लिए पेहसारी से नहर में छोड़ा गया पानी।
  • दिन-रात के तापमान में सिर्फ 2.3 डिग्री का अंतर, उमस से राहत, आज भी बारिश के आसार

सावन में ग्वालियर चंबल संभाग पर मानसून मेहरबान है। सावन शुरू होने के अगले दिन यानी 8 दिन से शहर में रोज बारिश हो रही है। बारिश में पीछे चल रहा ग्वालियर शहर में सोमवार तक अब तक के कोटे से 47.5 मिमी बारिश अधिक हो चुकी है। सोमवार को 24 घंटे में रात 8:30 बजे तक 80 मिमी बारिश हुई है।

वहीं मानसून सीजन में शहर का अब तक का बारिश का कोटा 348.2 मिमी है। जबकि 395.7 मिमी बारिश हो चुकी है। अंचल में हो रही बारिश से ककैटो बांध के गेट खोल दिए गए हैं। वहीं पेहसारी बांध से तिघरा के लिए नहर में पानी छोड़ दिया गया है, जिससे तिघरा बांध का जलस्तर 3.5 फीट बढ़ गया।

5 डिग्री लुढ़का दिन का पारा

बीती रात से शुरू हुई बारिश सोमवार को सुबह से लेकर रात तक चली। पूरे दिन शहरवासी बारिश में भीगे। वहीं 24 घंटे के दौरान अधिकतम तापमान में 5 डिग्री की गिरावट दर्ज की। बारिश के कारण दिन-रात के तापमान में 2.3 डिग्री का अंतर दर्ज किया गया। पिछले दिन की तुलना में अधिकतम तापमान 26.6 डिग्री दर्ज किया गया। न्यूनतम तापमान 24.3 डिग्री दर्ज किया गया।

पिछले साल से दोगुना ज्यादा बारिश: मानसून सीजन में पिछले साल की तुलना में अब तक दोगुना बारिश हुई है। पिछले वर्ष अब तक 197.9 मिमी बारिश हुई थी। सोमवार तक 395.7 मिमी बारिश हो चुकी है। इससे पहले 2018 में मानसून सीजन में 2 अगस्त तक 396.6 मिमी बारिश दर्ज की गई थी।

उधर, सोमवार को शहर के कई इलाकों में विद्युत लाइनें फॉल्ट हुईं, इससे कई कॉलोनी-मोहल्लों में दो घंटे तक बिजली गुल रही। सागरताल, तिलक नगर, कुम्हरपुरा, कृष्णा नगर, सुरेश नगर, गोविंदपुरी, विनय नगर, सिकंदर कंपू, मेला ग्राउंड, थाटीपुर में बिजली आती जाती रही।

जीवाजीगंज में दीवार ढही, गुस्साए लोगों ने प्रदर्शन किया

ग्वालियर| जीवाजीगंज पुलिस चौकी के पास सोमवार शाम को एक मकान की दीवार गिर गई। मकान में दिव्यांश और अरब दो बच्चे मौजूद थे, जिन्हें समय रहते मां ने बाहर खींच लिया। इसके बाद नाराज लोग सड़क पर आ गए और प्रदर्शन करना शुरू कर दिया। इसके बाद अफसरों ने लोगांे को समझाकर मामला शांत कराया।

गंगादास की बड़ी शाला की पुरानी दीवार गिरी

लक्ष्मीबाई कॉलोनी स्थित गंगादास की बड़ी शाला में भी पुरानी दीवार गिर गई। यहां रहने वाले बंटी वर्मा का कहना है कि पीछे कुछ लोगों ने जमीन खरीद ली है। उन्होंने मकानों की तरफ पानी का ढाल बना दिया, इसकी शिकायत पुलिस व सीएम हेल्पलाइन पर भी की गई। लेकिन सुनवाई नहीं हुई।

बारिश से उखड़ने लगीं सड़कें, लाेग परेशान

ग्वालियर|बारिश ने शहर की सड़कों की परतों को उधेड़ दिया है, इससे गड्‌ढे ही गड्‌ढे नजर आने लगे हैं। छप्परवाला पुल, इंदरगंज चौराहे से रोशनी घर की तरफ जाने वाले मार्ग में गड्‌ढे ही नजर आने लगे हैं। यहां सोमवार को रोशनी घर के आगे गड्‌ढे में लोडिंग ऑटो के अगले चक्के टूट गया।

इधर, कलेक्टर कौशलेंद्र विक्रम सिंह ने टाइम लिमिट बैठक में अपर आयुक्त मुकुल गुप्ता को निर्देश दिए की सड़कों की स्थिति को ठीक कराएं। निगमायुक्त शिवम वर्मा ने भी सड़कों के गड्‌ढों को भरने पर ज्यादा ध्यान देने के निर्देश दिए हैं।

खबरें और भी हैं...