वैक्सीनेशन टीम को ग्वालियर कलेक्टर की धमकी:बोले- अगर एक भी आदमी टीके से छूटा तो फांसी पर टांग दूंगा

ग्वालियरएक महीने पहले

ग्वालियर में वैक्सीनेशन टारगेट के टेंशन में कलेक्टर कौशलेंद्र विक्रम सिंह आपा खो बैठे। वह टीम पर पर बिफर गए और बोले- एक भी टीका छूट गया तो मैं फांसी पर टांग दूंगा। आदमी के खेत में पड़े रहो, उसके पैर में बैठे रहे, दिनभर उसके घर में पड़े रहो, लेकिन टीका नहीं छूटना चाहिए।

ग्वालियर में 16 दिसंबर को 62 हजार लोगों को वेक्सीनैट करने का टारगेट रखा गया है। इस दिन टीम सुबह 8 बजे से सेंटर और डोर-टू-डोर पहला व दूसरा डोज लगाएगी। इसी अभियान पर मंगलवार को कलेक्टर वन-टू-वन बात कर रहे थे। इसी दौरान कलेक्टर भितरवार की टीम पर नाराज हो गए। दरअसल, यहां 153 लोगों को वैक्सीन लगनी थी, लेकिन चार दिन ऊपर होने के बाद भी टारगेट पूरा नहीं हुआ था। ऑनलाइन में 98 ही दिख रहा था। इस पर कलेक्टर आग बबूला हो गए। उन्होंने बिना कुछ सुने ही वैक्सीनेशन टीम पर बरसना शुरू कर दिया। गुस्से में वह आपा खो बैठे कि उन्होंने यहां तक कह दिया कि झूठ मत बोलो, एक भी टीका नहीं छूटना चाहिए, अगर टीका छूटा तो एक-एक को फांसी पर टांग दूंगा...।

सोशल मीडिया पर हुए ट्रोल
कलेक्टर का यह वीडियो सोशल मीडिया पर आ गया। लोगों ने उन्हें ट्रोल करना शुरू कर दिया। लोगों का कहना है कि गांव-गांव जाकर काम कर रहे टीकाकरण दल में आशा कार्यकर्ता, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता व निचले स्तर के कर्मचारी होते हैं। हर दिन इनको गांववालों के आक्रोश का सामना करना पड़ता है। उनकी पीठ थपथपाने के बजाय कलेक्टर उनको फांसी पर लटकाने की बात कर रहे हैं।

16 को टीकाकरण का महाअभियान
16 दिसंबर को वैक्सीनेशन का महाअभियान है। इस दिन 62 हाजार लोगों को वैक्सीन लगाई जानी है। ऐसे में कलेक्टर ग्वालियर एक-एक टीम को टारगेट देकर अलर्ट कर रहे हैं। कलेक्टर ने जिले के सभी नागरिकों से अपील की है कि ऐसे लोग जो अब तक कोरोना वैक्सीन का पहला डोज नहीं लगवा पाए हैं या जिनका दूसरा डोज छूट गया है, वे टीका जरूर लगवाएं। वैक्सीन के दोनों डोज लगने के बाद ही कोरोना से बचाव संभव है। कलेक्टर ने मंगलवार को डबरा एवं भितरवार क्षेत्र में पहुंचकर टीकाकरण महाअभियान के संबंध में टीकाकरण दलों और क्राइसेस मैनेजमेंट समिति के सदस्यों के साथ चर्चा की।

खबरें और भी हैं...