सिंधिया ने श्रीराम से की स्वास्थ्य मंत्री की तुलना:कहा- प्रभु राम की लीला है कि मांगे 6 और 20 करोड़ मिले, कांग्रेस बोली- यह ठीक नहीं

ग्वालियर10 दिन पहले
जिला अस्पताल में मंच पर भगवान रात से प्रभुराम की तुलना करते हुए सिंधिया।

ग्वालियर में केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने श्रीराम की तुलना स्वास्थ्य मंत्री प्रभुराम चौधरी से कर दी। वे गुरुवार दोपहर जिला अस्पताल में ऑक्सीजन प्लांट व ICU वार्ड के लोकार्पण के बाद मंच को संबोधित कर रहे थे। जोश-जोश में उन्होंने कहा कि हमारे स्वास्थ्य मंत्री प्रभु और राम हैं। ये हमारे प्रभुजी की लीला है कि जब जनता 6 करोड़ मांगती है, तो वे 20 करोड़ रुपए मंजूर कर देते हैँ। इस पर कांग्रेस विधायक सतीश सिकरवार ने कहा है कि भगवान श्रीराम किसी की ठेकेदारी नहीं हैं। न ही भगवान और जनता के बीच में कोई बिचौलिया है। ऐसा करना ठीक नहीं है।

केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने जिला अस्पताल मुरार में ऑक्सीजन प्लांट व 20 बिस्तर के ICU का लोकार्पण व सीटी स्कैन मशीन की स्थापना के लिए भूमिपूजन किया। इस दौरान सिंधिया ने कहा कि पूर्व विधायक मुन्नालाल गोयल ने अस्पताल के लिए 6 करोड़ रुपए मांगे थे। मैं आपको बताना चाहता हूं कि हमारे स्वास्थ्य मंत्री का नाम प्रभु और राम है। ये हमारे प्रभु जी की लीला है कि जब जनता 6 करोड़ मांगती है, तो प्रभु 6 की जगह 20 करोड़ मंजूर करते हैं। बिस्तर की संख्या 200 की जगह 300 कर देते हैं। हालांकि उन्होंने सीधे तौर पर उनको भगवान राम नहीं कहा, सिर्फ मंत्री प्रभुराम के नाम की व्याख्या की थी।

कांग्रेस विधायक का पलटवार
इसके बाद कांग्रेस विधायक सतीश सिकरवार ने विरोध दर्ज कराया। उन्होंने कहा कि श्रीराम पर किसी की ठेकेदारी नहीं है। राम और जनता के बीच कोई बिचौलिया भी नहीं है। राम से किसी की तुलना नहीं हो सकती।

खबरें और भी हैं...