पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Gwalior
  • Crack In Partnership With Friendship, If Removed, Tampered With Documents And Sold Crushers And Machines

दोस्त ने लगाया करोड़ों का चूना:ग्वालियर में दोस्ती के साथ साझेदारी में आई दरार, हटाया तो डॉक्यूमेंट से छेड़छाड़ कर बेच दी क्रशर और मशीनें

ग्वालियर22 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • न्यायालय के हस्तक्षेप के बाद हुआ धोखाधड़ी का मामला दर्ज

ग्वालियर में एक दोस्त ने दूसरे दोस्त को करोड़ों का चूना लगा दिया। दोनों दोस्तों ने साझेदारी में क्रशर ली थी। जब हिसाब और लेनदेन पर मनमुटाव हुआ तो दोनों अलग हो गए। पर एक दोस्त ने साझेदारी टूटने बाद क्रशर दस्तावेजों से छेड़छाड़ कर उसे बेच दिया। घटना सिटी सेंटर की है। खदान संचालक ने पहले विश्वविद्यालय थाना में शिकायत की, लेकिन सुनवाई नहीं होने पर न्यायालय में परिवाद दायर किया। कोर्ट ने शिकायत सही मानते हुए FIR के निर्देश दिए हैं। पुलिस ने कोर्ट के आदेश पर मामला दर्ज कर लिया है।

शहर में श्रीराम कॉलोनी निवासी 72 वर्षीय राजेन्द्र प्रसाद पुत्र एमएल खंडेलवाल क्रशर संचालक हैं। उनके क्रशर में उनके दोस्त चेतन प्रसाद गुप्ता पुत्र ओमप्रकाश गुप्ता साझेदार थे। दोनों की दोस्ती पुरानी है और एक दूसर के साथ लंबे समय से काम कर रहे हैं। पर क्रशर के संचालन और हिसाब किताब में कुछ समय बाद उनके बीच कुछ विवाद हुए तो राजेन्द्र ने चेतन प्रसाद को क्रशर की साझेदारी से अलग कर दिया, क्योंकि इस क्रशर में राजेन्द्र बड़े पार्टनर थे। आधे से ज्यादा पैसा उनका लगा था। इससे नाराज दूसरे पार्टनर ने बदला लेने के इरादे से उसे करोड़ों रुपए का चूना लगा दिया।

क्रशर और मशीनों को बेच दिया

पार्टनरशिप से निकाले जाने के बाद चेतन प्रसाद ने दस्तावेजों में हेरफेर कर उक्त क्रशर को बेच दिया। इतना ही नहीं वहां रखी सारी मशीनरी भी बेच दी। करीब 5 करोड़ रुपए का पूरा प्रोजेक्ट था। जब राजेन्द्र को इसका पता लगा तो वह विश्वविद्यालय थाना पहुंचे और मामले की शिकायत की। पुलिस ने सीधे मामला दर्ज नहीं किया। इस पर व्यवसायी ने न्यायालय में परिवाद लगाया। न्यायालय ने मामले में FIR दर्ज करने के निर्देश पुलिस को दिए। जिस पर पुलिस ने आरोपी के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज कर लिया है।

खबरें और भी हैं...