• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Gwalior
  • Due To The West Wind, The Mercury Will Rise Again From Today, Clouds Will Prevail From 14, Then You Can Get Relief From The Heat

वेदर अपडेट:पश्चिमी हवा चलने से आज से फिर चढ़ेगा पारा, 14 से छाएंगे बादल, तब मिल सकती है गर्मी से राहत

ग्वालियर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
तेज धूप से बचाव के लिए मुंह ढंके युवतियां। साइकिल का हैंडल गर्म होने से युवती एक हाथ से साइकिल चलाती हुई। स्थान: पद्मा स्कूल के पास। - Dainik Bhaskar
तेज धूप से बचाव के लिए मुंह ढंके युवतियां। साइकिल का हैंडल गर्म होने से युवती एक हाथ से साइकिल चलाती हुई। स्थान: पद्मा स्कूल के पास।
  • 11 से 13 मई के बीच ग्वालियर का तापमान 45 डिग्री पर पहुंचने के आसार

पश्चिमी हवा चलने से आज से फिर पारा बढ़ना शुरू हो जाएगा। इससे तीन दिन तक गर्मी सबसे ज्यादा बेचैन करेगी। हालांकि 14 से 16 मई के बीच अंचल में बादल छाने की संभावना जिससे लू से राहत मिलने की संभावना है। वहीं सोमवार को दिन के तापमान में मामूली गिरावट दर्ज की गई। लेकिन दोपहर में गर्म हवा ने खूब बेचैन किया। गर्मी के चलते दोपहर में सड़क व बाजार में सन्नाटा पसरा रहा।

पिछले दिन की तुलना में अधिकतम तापमान 1.1 डिग्री सेल्सियस गिरावट के साथ 42.4 डिग्री दर्ज किया गया। यह सामान्य से 1.1 डिग्री अधिक रहा। जबकि न्यूनतम तापमान 1.3 डिग्री सेल्सियस बढ़त के साथ 26.6 डिग्री दर्ज किया गया। यह सामान्य से 1.4 डिग्री अधिक रहा। सुबह की आर्द्रता 59 फीसदी रही। यह सामान्य से 22 फीसदी अधिक रही। शाम 7 बजे के बाद गर्म हवा से राहत लोगों को मिल सकी।

एक्सपर्ट व्यू- असानी तूफान से गर्म पश्चिमी हवा को मिल रही है ताकत

पूर्वी उत्तर प्रदेश के ऊपर चक्रवाती घेरा व राजस्थान से ट्रफ लाइन गुजर रही है। ये दोनों सिस्टम मिलकर पाकिस्तान से आने वाली गर्म पश्चिमी हवा को मप्र के ऊपर फैला रही है। 11 से 13 मई तक ग्वालियर-चंबल संभाग में लू का प्रकोप रहेगा। ग्वालियर, दतिया व श्योपुर में 45 डिग्री तो भिंड में 46 डिग्री तक जा सकता है।

असानी तूफान उड़ीसा की तरफ बढ़ रहा है। इससे पश्चिमी हवा काे और ताकत मिल रही है। उड़ीसा तट पर पहुंचने और 12 मई को पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय होने से बंगाल की खाड़ी व अरब सागर से नमी आना शुरू हो जाएगी। इससे 14 से 16 मई तक बादल छाएंगे, जिससे गर्मी से थोड़ा राहत रहेगी।-वेद प्रकाश सिंह, वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक

खबरें और भी हैं...