पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Gwalior
  • Electrician Used To Run Society, Money Trapped In Lockdown, Borrowers Started Harassing, Died By Hanging

कर्ज के तनाव में दे दी जान:इलेक्ट्रीशियन चलाता था सोसायटी, लॉकडाउन में फंसा पैसा, कर्जदार करने लगे परेशान, फांसी लगाकर दे दी जान

ग्वालियरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पोस्टमार्टम हाउस के बाहर मामले की पूछताछ करते और पंचनामा बनाते पुलिसकर्मी - Dainik Bhaskar
पोस्टमार्टम हाउस के बाहर मामले की पूछताछ करते और पंचनामा बनाते पुलिसकर्मी
  • सिरोल के हरदौल गार्डन की है घटना

ग्वालियर में कर्जदारों के बार-बार दरवाजे पर आकर परेशान करने से तनाव में आए युवक ने फांसी लगाकर जान दे दी। घटना शुक्रवार को हरदौल गार्डन सिरोल की है। मृतक इलेक्ट्रीशियन था। साथ ही वह सोसायटी भी चलाता था। लॉकडाउन में उसने कई लोगों से पैसा लिया पर जिनको दिया उन्होंने नहीं लौटाया।

जिन्होंने पैसा दिया था वह उसे परेशान कर रहे थे। जिस कारण वह कई दिन से तनाव में था। शुक्रवार सुबह उसने फांसी लगाकर जान दे दी। घटना का पता चलते ही पुलिस मौके पर पहुंची। पुलिस ने शव को निगरानी में लेकर मर्ग कायम कर लिया है। कौन परेशान कर रहा था यह पता नहीं चल सका है।

सिरोल थाना ने मृतक का मोबाइल निगरानी में लिया है जिससे पता चल सके कि उसे कौन परेशान कर रहा था
सिरोल थाना ने मृतक का मोबाइल निगरानी में लिया है जिससे पता चल सके कि उसे कौन परेशान कर रहा था

सिरोल के हरदौल गार्डन के पास रहने वाले भारत सिंह कदम पुत्र सुरेश सिंह कदम इलेक्ट्रीशियन था। साथ ही सोसायटी बिजनिस भी चलाता था। सोसयटी में कई लोगों का ग्रुप बनाकर वह पैसे जमा कराता। हर महीने एक सदस्य एक महीने की जमा रकम को ब्याज पर उठाता है। ऐसे ही हर सदस्य का एक बार टर्न आता है। पर कुछ दिन से कर्ज के चलते वह परेशान चल रहा था। लोग उसके घर तक आने लगे थे। शुक्रवार को वह गार्डन में गया वहां दुपट्‌टा का फंदा बनाकर कूंदे पर अटकाया और फांसी लगाकर जान दे दी। घटना का पता चलते ही परिजन ने उसे उतारने का प्रयास किया, लेकिन उसका शरीर ठंडा पड़ चुका था। सूचना मिलते ही सिरोल थाना पुलिस मौके पर पहुंच गई। पुलिस ने शव को निगरानी में लेकर शुक्रवार दोपहर पोस्टमार्टम कराया है।

आत्मघाती कदम उठाने से पहले भाई को बताया था दर्द

  • मृतक के भाई ने बताया कि मौत से दो दिन पहने भारत बता रहा था कि लॉकडाउन में कुछ लोगों ने पैमेंट नहीं किया और उस पर लाखों रुपए का कर्ज हो गया है। अब कर्जदार परेशान कर रहे हैं। उस पर कितना कर्जा था और किसका था, अभी इसका पता नहीं चला था। भाई ने उसे समझाया भी था कि हालात सुधर जाएंगे, सब ठीक हो जाएगा। धैर्य से काम ले, लेकिन उसने एक नहीं सुनी।
खबरें और भी हैं...