• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Gwalior
  • Electrification Will Be Completed Next Month, Two New Trains Will Be Available, Speed Will Also Increase

ग्वालियर-इटावा ट्रैक:अगले माह पूरा हाे जाएगा विद्युतीकरण, दो नई ट्रेनें मिलेंगी, रफ्तार भी बढ़ेगी

ग्वालियर5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
प्रतीकात्मक फोटो - Dainik Bhaskar
प्रतीकात्मक फोटो

ग्वालियर-इटावा रेलवे ट्रैक पर चल रहा ओएचई लाइन (विद्युतीकरण) का काम सितंबर तक पूरा हो जाएगा। रेलवे प्रशासन के मुताबिक 115 किमी लंबे इस ट्रैक पर 90 करोड़ रुपए की लागत से चल रहे इस काम के पूरे होते ही, जहां ट्रैक पर चलने वाली ट्रेनों की रफ्तार 80 से 110 किमी प्रति घंटा हो सकती हैं, वहीं दो नई ट्रेनें भी शुरू हो सकती हैं। फरवरी 2016 में इस ट्रैक पर ट्रेन शुरू हुई थी। ग्वालियर-इटावा के बीच सिर्फ तीन ट्रेनें ही चलीं। कोरोना संकट के दौरान ट्रैक पर सिर्फ ग्वालियर-इटावा पैसेंजर ही चल रही है।

ग्वालियर से गुवाहाटी के लिए कोई सीधी ट्रेन नहीं है। ट्रैक का काम पूरा होने पर जल्द ही यह ट्रेन मिल सकती है। इस संबंध में झांसी मंडल के अधिकारियों ने ग्वालियर के अधिकारियों से जानकारी चाही है कि गुवाहाटी के लिए साप्ताहिक ट्रेन चलाए जाने की स्थिति में यहां रैक की धुलाई के पर्याप्त इंतजाम हैं कि नहीं।

दिल्ली-ग्वालियर-इंदौर के लिए इंडिगो की फ्लाइट 1 से चलेगी
17 माह बाद दिल्ली-ग्वालियर-इंदौर के बीच फ्लाइट चलेगी। यह फ्लाइट विमानन कंपनी इंडिगो 1 सितंबर से चलाएगी। इसके लिए राजमाता विजयाराजे सिंधिया एयर टर्मिनल को अधिकृत रूप से जानकारी भेजी गई है। इंडिगो दिल्ली से ग्वालियर के लिए सुबह फ्लाइट चलाएगा। जबकि इंदौर से ग्वालियर दोपहर 12 बजे के करीब फ्लाइट आएगी जो दिल्ली जाएगी।

इसके साथ ही अहमदाबाद से दरभंगा के बीच चलने वाली साबरमती एक्सप्रेस को गुना-शिवपुरी- ग्वालियर-इटावा होकर कानपुर निकाले जाने और ग्वालियर-बरौनी मेल को झांसी के बजाय इटावा होकर कानपुर भेजे जाने की तैयारी भी चल रही है। ऐसा होने पर यात्रियों का 2.20 घंटे का समय बचेगा।

खबरें और भी हैं...