• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Gwalior
  • Energy Minister Suddenly Arrived At Sagartal Electricity Sub Station, Found Empty Liquor Bottles Lying In The Park, Got Angry And Reprimanded

बिजली उपकेंद्र में अंधेरगर्दी:सागर ताल सब स्टेशन का दौरा करते-करते शराब की बोतल से टकराया ऊर्जा मंत्री का पैर; अपने हाथ से बीनते हुए बोले- कैंपस कवर्ड है तो ये कहां से आई; कार्रवाई होगी

ग्वालियर7 महीने पहले
विद्युत सब स्टेशन से मिलीं शराब की बोतलों को ऊर्जामंत्री ने खुद उठाया।

ग्वालियर में ऊर्जामंत्री ने शराबखोरी पकड़ी है, वह भी उनके अपने ही विभाग के एक विद्युत सब स्टेशन में। रविवार दोपहर सागरताल 33KV विद्युत सब स्टेशन पर जब मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर पहुंचे, तो वहां सब स्टेशन में ट्रांसफाॅर्मरों के नीचे शराब की खाली बोतलें पड़ी मिलीं।

यह देखकर ऊर्जामंत्री भड़क गए। उन्होंने स्टाफ को फटकार लगाते हुए तत्काल सफाई के लिए कहा। साथ ही, पूछा है कि पूरा कैंपस कवर्ड है, तो अंदर बोतलें कैसे आईं। मतलब, कर्मचारी यहां बैठकर शराब पीते होंगे। सरकारी कार्यालय में यह हरकत गैर जिम्मेदार है। जो बर्दाश्त नहीं की जाएगी। मंत्री ने अफसरों को कार्रवाई के लिए निर्देश दिए हैं।

विद्युत सब स्टेशन से शराब की खाली बोतलें मिलने पर अफसरों को फटकार लगाकर 24 घंटे में कार्रवाई के लिए कहा।
विद्युत सब स्टेशन से शराब की खाली बोतलें मिलने पर अफसरों को फटकार लगाकर 24 घंटे में कार्रवाई के लिए कहा।

रविवार को शहर में बिजली व्यवस्था देखने के लिए ऊर्जामंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर निरीक्षण कर रहे थे। वह बहोड़ापुर इलाके में सागरताल स्थित 33KV विद्युत सब स्टेशन पर पहुंचे। यहां उनके पहुंचते ही कर्मचारियों में हड़कंप मच गया। ऊर्जामंत्री तोमर ने कहा, ट्रांसफार्मर की स्थिति दिखाओ कैसी है। बिजली की सप्लाई ठीक चल भी रही है या नहीं। इतना पूछते हुए, वह आगे बड़े ही थे कि तभी उनके पैर से शराब की खाली बोतल टकराई। इसके बाद उन्होंने नजर दौड़ाई, तो ट्रांसफार्मर के आगे पीछे करीब आधा दर्जन शराब की बोतलें मिलीं। इस पर वह नाराज हुए। कर्मचारियों को फटकार लगाई। तत्काल एई रजनीश कुमार को फोन कर कार्रवाई के लिए कहा।

यह गलत बात है

उर्जामंत्री ने कहा कि यह गलत बात है। सरकारी कार्यालय है। चारों तरफ से बाउंड्री है और गेट भी लगा है। बाहर से तो कोई बोतल लेकर आया नहीं होगा। यहीं किसी ने शराब पी है। मैंने यहां के इंचार्ज को कार्रवाई के लिए निर्देशित किया है। दो दिन बाद इस पर पता करूंगा कि क्या कार्रवाई की गई है।

खबरें और भी हैं...