फायर ब्रिगेड की टीम ने किया निरीक्षण:जयारोग्य अस्पताल के सुपर स्पेशलिटी में एक्सपायरी डेट के मिले अग्निशमन यंत्र

ग्वालियरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • महाराष्ट्र के अहमदनगर की घटना के बाद फायर ब्रिगेड की टीम ने किया निरीक्षण

महाराष्ट्र के अहमदनगर में आग की घटना से सबक लेकर नगर निगम का फायर अमला शनिवार की शाम को जयारोग्य अस्पताल के सुपर स्पेशलिटी अस्पताल में पहुंचा। यहां फायर अमले को फायर सिस्टम पूरी तरह से तय मानकों के अनुरूप नहीं मिला। फायर ऑफिसर विवेक दीक्षित का कहना है कि यहां पर आईसीयू से लेकर अन्य स्थलों पर लगे अग्निशमन यंत्र एक्सपायरी डेट के और बंद मिले। अब नगर निगम स्पेशलिटी अस्पताल के प्रबंधन को नोटिस देगा। दीक्षित का कहना है कि अब सरकारी अस्पताल और फिर निजी अस्पतालों का निरीक्षण कर फायर सिस्टम का परीक्षण किया जाएगा।

हालांकि इससे पहले शहर में डेढ़ साल में घटित हो चुकीं चार बड़ी घटनाओं के बाद फायर ऑडिट कर 300 लोगों को नोटिस दिया जा चुका है। दो महीने पहले रिमाइंडर भी दिया गया है, लेकिन एक्शन लेने के लिए अफसर तैयार नहीं है। ज्ञात रहे नगर निगम को 10 फायर कंसल्टेंट इंजीनियरों को रखना है। निगम ने इसका एक प्रस्ताव बनाकर मुख्यालय पहुंचा दिया है। अभी तक कोई कार्रवाई प्रस्ताव पर नहीं हो सकी है। अस्पतालों में दो-दो वार्डों के लिए एक अग्निशमन यंत्र: जयारोग्य चिकित्सालय के आईसीयू में 2 तथा ट्रॉमा सेंटर और केआरएच के 16 बिस्तर के पुराने पीडियाट्रिक आईसीयू में 3-3 अग्निशमन यंत्र लगे हुए हैं। जेएएच के कुछ वार्ड ऐसे हैं जिनमें दो वार्डों के बीच में सिर्फ एक ही छाेटा अग्निशमन यंत्र लगा हुआ है। जिला अस्पताल मुरार के ट्रॉमा सेंटर के ऑपरेशन थियेटर में 2 सहित पूरे ट्रॉमा सेंटर में सिर्फ 3 छोटे वाले अग्निशमन यंत्र ही लगे हुए हैं। जिला अस्पताल मुरार में 18 वार्ड संचालित होते हैं जिसके लिए सिर्फ 32 अग्निशमन यंत्र ही हैं।

जिला अस्पताल मुरार के आरएमओ डॉ. आलोक पुरोहित का कहना है कि 12 अग्निशमन यंत्र और लगवाने के लिए सिविल सर्जन को पत्र लिखा जाएगा। जयारोग्य अस्पताल समूह के अधीक्षक डॉ. आरकेएस धाकड़ का कहना है कि कोविड से पहले फायर सेफ्टी एजेंसी से ऑडिट कराकर एनओसी लगी है। उनके बताए अनुसार पूर्व से लगे अग्निशमन यंत्रों के अलावा 100 अग्निशमन यंत्र और लगवाए गए हैं। शहर में दो दिन में आग की दो घटनाएं: शहर में दो दिन में दो आग की घटनाएं हो चुकी हैं। इसके पूर्व 24 अप्रैल 2020, 14 मार्च 2020, 18 मई 2020 और 5 नवंबर 2021 को शहर में अग्निकांड की बड़ी घटनाएं हुईं हैं।

खबरें और भी हैं...