अफसरों ने दिखाई सक्रियता:एंटी माफिया अभियान के तहत 30 दिन में 14 लोगों पर हुई एफआईआर

ग्वालियर21 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
फाइल फोटो - Dainik Bhaskar
फाइल फोटो

एंटी माफिया अभियान के तहत 30 दिन में कुल 14 एफआईआर अलग-अलग पुलिस थानों में दर्ज हुई हैं। इनमें दो करोड़ों रुपए की सरकारी जमीन पर कब्जे को लेकर हैं। सीएम की चर्चा और प्रोग्रेस पूछने के डर से ही एफआईआर दर्ज कराने में अफसरों ने काफी सक्रियता दिखाई है। इस महीने के प्रारंभ में झांसी रोड एसडीएम सीबी प्रसाद ने महलगांव के सर्वे नंबर 1479 की 6 करोड़ की सरकारी जमीन मुक्त कराई थी। यह जमीन आयुर्वेद कॉलेज परिसर से लगी थी और इस पर विजयनगर आमखो के अनिल राजावत भैंस डेयरी चला रहा था। यहां पर प्लाटिंग की तैयारी हो रही थी। एसडीएम प्रसाद के निर्देश पर क्षेत्र के पटवारी ने प्रकरण दर्ज करा दिया है।

गंगा मालनपुर में क्षेत्र के एसडीएम प्रदीप सिंह तोमर ने आम रास्ते पर कब्जा करने वाले बलवीर सिंह यादव के खिलाफ पुलिस में प्रकरण दर्ज कराया था। इन दो प्रकरणों में एंटी माफिया अभियान के तहत प्रकरण दर्ज होने के बाद कार्रवाई नहीं हुई है।

मिलावट और कालाबाजारी में 12 प्रकरण दर्ज
पिछले कुछ दिनों में छह कारोबारियों पर पुलिस थानों में प्रकरण दर्ज कराए गए हैं। इनमें अधिकतर वे कारोबारी शामिल हैं जिनके प्रतिष्ठान से नमूने लिए गए थे पर इनकी रिपोर्ट असुरक्षित श्रेणी की निकली है। ऐसे ही खाद्य विभाग ने 6 राशन दुकानों के संचालकों पर एफआईआर दर्ज कराई है। खाद्य सुरक्षा अधिकारी राजेश गुप्ता ने बताया कि अलग-अलग क्षेत्र की इन दुकानों के संचालकों पर राशन की हेराफेरी करने का आरोप है।

खबरें और भी हैं...