नवरात्रि पर्व का असर:दाेगुने दाम पर बिके फूल, फल ‌‌ 40 किलो तक महंगे

ग्वालियर18 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

नवरात्रि पर्व के पहले दिन बाजार में फूल, फल और पूजन सामग्री के बाजार में काफी उछाल रहा। गुलाब और गेंदा फूल की कीमत डबल हो गई। व्रत के कारण फल की कीमतों में भी वृद्धि हुई है। श्राद्ध पक्ष के कारण बढ़े सब्जियों के दाम यथावत रहे। इनमें गिरावट संभव है। उधर, दस्तावेज पंजीयन की रफ्तार तेज है। सर्विस प्रोवाइडर मनीष मंगल ने कहा कि वृत-2 (सिटी सेंटर-मुरार) में 11 अक्टूबर तक स्लॉट बुक हो चुके हैं। वृत-1 (लश्कर) में शुक्रवार की बुकिंग चल रही थी।

गुलाब 50 से बढ़कर 120 रु. किलो तक बिका

फूल किसान नत्थू सिंह कुशवाह ने कहा कि एक दिन पहले गुलाब 40-50 रुपए किलो था जो आज थोक मंडी में 100 से 120 रुपए किलो तक पहुंच गया। ऐसे ही गेंदा के फूल बुधवार तक 20 से 22 रुपए किलो तक बिक रहे थे पर इसकी कीमत भी गुरुवार को बढ़कर 40 से 45 रुपए किलो तक पहुंच गई।

टमाटर में 5 से 7 रुपए किलो तक वृद्धि हुई

सब्जी कारोबारी फूलचंद ने कहा कि टमाटर और मूली को छोड़कर भिंडी, आलू, तौरई, कद्दू के भाव पहले की तरह ही गुरुवार को रहे। दो दिन में कीमतों मेंं कुछ गिरावट संभव है। टमाटर में 5 से 7 रुपए किलो तक वृद्धि हुई है।

फलों पर 2 से 30 रुपए किलो तक बढ़े दाम

थोक फल कारोबारी श्याम राजोरे ने कहा कि गुरुवार को केला, पपीता, सेव और अनार सहित अन्य फलों की कीमतों में वृद्धि हुई। पपीता 5 रुपए, केला 2 रुपए, सेव 10 रुपए तथा अनार में 30 रुपए किलो तक वृद्धि हुई है। फल विक्रेता मुकेश डेगला ने कहा कि फुटकर में अनार के अलावा अन्य कीमतें एक दिन पहले जैसी ही रहीं।

पूजन सामग्री की कीमतें 20 फीसदी तक बढ़ीं

माता की चुनरी, सुहाग सामग्री, धूप-कपूर की मांग रही। दुकानदार गौरव कुमार ने कहा कि पूजा सामग्री की कीमतें अन्य दिनों की तुलना में 15 से 20 फीसदी तक बढ चुकी हैं। इसका कारण ट्रांसपोर्टरों द्वारा भाड़ा बढ़ाना है।

खबरें और भी हैं...