पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Gwalior
  • For The First Time After Becoming The Minister In Charge, Minister Siwalat Is Coming To Gwalior Today, Will Take A Meeting On The Preparations For The Third Wave, Try To Pacify All The Groups In The Meeting

जयभान सिंह से मिले सिंधिया समर्थक सिलावट:छत्तीसगढ़ के CM भूपेश द्वारा सिंधिया को बिकाऊ कहने पर मंत्री सिलावट बोले- वादाखिलाफी पर हमने डंके की चोट पर कमलनाथ सरकार गिराई

ग्वालियर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
प्रभारी मंत्री तुलसीराम सिलावट माधवराव सिंधिया की मूर्ति पर पुष्प अर्पित करने के बाद हाथ जोड़कर खड़े हुए। - Dainik Bhaskar
प्रभारी मंत्री तुलसीराम सिलावट माधवराव सिंधिया की मूर्ति पर पुष्प अर्पित करने के बाद हाथ जोड़कर खड़े हुए।
  • दो दिन में 18 नेताओं के घर जाएंगे मंत्री सिलावट

ग्वालियर प्रवास पर आए प्रभारी मंत्री तुलसीराम सिलावट ने छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के बयान- सिंधिया बिकाऊ हैं पर कहा कि जो सिंधिया हमेशा देने की बात करते हैं। उन पर यह आरोप निराधार है। हां मैं कहता हूं कि हमने मध्य प्रदेश में डंके की चोट पर सरकार को गिराया था। कमल नाथ की सरकार किसानों को धोखा दे रही थी। हर वर्ग के लोगों के साथ वादाखिलाफी कर रही थी। जिन मुद्दों पर वादा किया पलट रही थी।

कमल नाथ ने सिंधिया से कहा उतर जाओ सड़क पर तो हम उतर गए। कांग्रेस का कार्यकर्ता हो या मुख्यमंत्री उनके पास सिंधिया के खिलाफ बोलने के लिए कुछ बचा नहीं है। इसलिए कुछ भी बोल रहे हैं। कांग्रेस खत्म हो गई है। यह बात उन्होंने पूर्व मंत्री व हिंदू वादी छवि के नेता जयभान सिंह पवैया से मुलाकात के बाद मीडिया से कही है।

सिंधिया समर्थक सिलावट, जयभान सिंह पवैया से मुलाकात करते हुए
सिंधिया समर्थक सिलावट, जयभान सिंह पवैया से मुलाकात करते हुए

ग्वालियर के प्रभारी मंत्री बनने के बाद जल संसाधन, मछुआ कल्याण व मत्स्य विकास मंत्री तुलसीराम सिलावट दो दिवसीय दौरे पर पहली बार बुधवार को ग्वालियर आए हैं। सुबह 9 बजे उन्हें आना था, लेकिन वह 3 घंटे देरी से पहुंचे। अपने दौरे की शुरूआत उन्होंने राजमाता विजयाराजे सिंधिया और माधवराव सिंधिया की मूर्ति पर पुष्प अर्पित कर की।

साथ ही वह बोले हैं कि ग्वालियर सिंधिया जी का शहर है। यह विकास और प्रगति का मॉडल है। अब इसे आगे ले जाने की जिम्मेदारी मुझ पर है। कोविड में आज जो जीरो का आंकड़ा आया है। वो इस शहर के आम लोगों और जनप्रतिनिधियों के समन्वय और प्रयास का सार्थक नतीजा है। बस अब हमें कोविड अनुकूल व्यवहार पर जोर देना है। प्रदेश के मुखिया ने इस कोविड काल में 18-18 घंटे जाग कर काम किया है। जल्द तीसरी लहर की तैयारियों की समीक्षा करूंगा।

ग्वालियर पहुंचने के बाद प्रभारी मंत्री ने कार से उतरने से पहले वहां खड़े लोगों को मास्क पहनने को कहा, फिर बाहर आए
ग्वालियर पहुंचने के बाद प्रभारी मंत्री ने कार से उतरने से पहले वहां खड़े लोगों को मास्क पहनने को कहा, फिर बाहर आए

पानी के संकट पर बोले, बात कर रहा हूं

जब प्रभारी मंत्री सिलावट से पूछा गया कि ग्वालियर में मानसून आने के बाद भी बारिश नहीं हो रही है। तिघरा जलाशय सूख रहा है। चार साल बाद ऐसी स्थिति बनी है कि पंप कर अन्य डैम से पानी लाने की नौबत आ गई है। इस पर प्रभारी मंत्री का कहना है कि गुरूवार को इसी पर विभाग के साथ बैठक कर रहा हूं। तब एक-एक बिंदू पर चर्चा होगी और संकट से कैसे निपटा जाए बात होगी।

यहां-यहां पहुंचे और जाएंगे

  • बुधवार को दो दिवसीय प्रवास की शुरूआत प्रभारी मंत्री सिलावट राजमाता विजयाराजे सिंधिया, माधवराव सिंधिया एवं पं. दीनदयाल उपाध्याय की मूर्ति पर माल्यार्पण के साथ की। इसके बाद रेलवे स्टेशन के पास संकट मोचन मंदिर के दर्शन किए। मंदिर के बाद सीधे हेमसिंह की परेड सिंधी कॉलोनी में पूर्व महापौर समीक्षा गुप्ता के घर पहुंचे और मुलाकात की। वहीं से सिंधी कॉलोनी में पूर्व मंत्री अनूप मिश्रा के घर पहुंचकर उनसे मिले। सिंधी कॉलोनी से सीधे हारकोटासीर समाधिया कॉलोनी पूर्व मंत्री नारायण सिंह कुशवाह के घर पहुंचकर उनसे भेंट की। इसके बाद डॉ.केशव पांडेय के घर पहुंचकर शोक संवेदना व्यक्त की है।
  • प्रभारी मंत्री दोपहर दोपहर श्याम वाटिका में महानगर एवं ग्रामीण क्षेत्र के जनप्रतिनिधियों के साथ बैठक में भाग लिया। इसके बाद पूर्व मंत्री जयभान सिंह पवैया घर पहुंचकर उनसे मुलाकात की। इस दौरान कहा कि जयभान सिंह बड़े नेता हैं। उनके अनुभव का हमें फायदा मिलेगा। पूर्व मंत्री के घर से सीधे ठाठीपुर अजाक्स कार्यालय में अजाक्स के शपथ ग्रहण कार्यक्रम में शामिल हुए। प्रभारी मंत्री सिलावट रानीमहल पूर्व मंत्री माया सिंह के घर पर पहुंचकर उनसे भेंट की। शाम सांसद विवेक नारायण शेजवलकर के निवास पर पहुंचे और बातचीज की। भाजपा जिलाध्यक्ष कमल माखीजानी, पूर्व विधायक रमेश अग्रवाल के घर भी पहुंचे हैं। शाम को मुखर्जी भवन में कार्यकर्ताओं से मुलाकात। फिर स्व. बैजनाथ शर्मा के निवास पर शोक संवेदना व्यक्त करेंगे। बुधवार को रात को ऊर्जामंत्री के घर पर डिनर कर कार्यक्रमों को विराम देंगे।
प्रभारी मंत्री तुलसीराम सिलावट कार्यक्रम स्थल तक जाते हुए।
प्रभारी मंत्री तुलसीराम सिलावट कार्यक्रम स्थल तक जाते हुए।
खबरें और भी हैं...