पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

पुलिस की कार्रवाई:ग्वालियर में पेट्रोल पंप से 1.20 लाख रुपए लूटने वाली गैंग गुजरात में पकड़ी

ग्वालियरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

गणतंत्र दिवस से ठीक एक दिन पहले ग्वालियर के पुरानी छावनी इलाके में पेट्रोल पंप से 1.20 लाख रुपए लूटने वाली लुटेरों की इंटरस्टेट गैंग गुजरात में पकड़ी गई है। इसी गैंग ने राजकोट में 12 दिन पहले शिव ज्वेलर्स में घुसकर 82.46 लाख रुपए की डकैती की थी। लुटेरे सराफा कारोबारी को ज्वेलरी शॉप में ही स्थित बड़ी तिजोरी में बंद कर गए थे।

राजकोट क्राइम ब्रांच ने इस पूरी गैंग को पकड़ा तो मध्यप्रदेश, राजस्थान, उत्तरप्रदेश और गुजरात में कई सनसनीखेज लूटों का खुलासा हुआ है। राजकोट में पकड़े गए बदमाशों से जब ग्वालियर और मुरैना की लूट खुलीं तो यहां के पुलिस अफसरों को भी सूचना दी गई है। ग्वालियर पुलिस भी पूछताछ के लिए गुजरात जाएगी और आरोपियों को ग्वालियर भी लाया जाएगा।

राजकोट के पुलिस कमिश्नर मनोज अग्रवाल ने बताया कि सीसीटीवी फुटेज में जो चेहरे दिखे उससे सभी राज्यों की पुलिस से साझा किया गया। आरोपियों की पहचान होने के बाद इन्हें राजस्थान से पकड़ लिया गया। आरोपियों के नाम अविनाश उर्फ फौजी पुत्र उत्तम सिंह सिकरवार निवासी धौलपुर, सुरेंद्र पुत्र हमीर सिंह जाट निवासी भरतपुर को गिरफ्तार कर लिया गया। इसकी सूचना ग्वालियर पुलिस को दी गई। सीएसपी महाराजपुरा रवि भदौरिया ने बताया कि तीनों आरोपियों ने अपने एक साथी रोहितास जाट निवासी धौलपुर व दो अन्य साथियों के के साथ मिलकर 25 जनवरी को पुरानी छावनी स्थित पेट्रोल पंप पर 1.20 लाख रुपए की लूट की थी।

रोहितास पहले ही पकड़ा जा चुका है। अब उसके तीन साथी भी पकड़े गए हैं। इन आरोपियों से पूछताछ में ग्वालियर की अन्य लूटों का भी खुलासा हो सकता है। अभी इनका एक साथी सतीश पुत्र सोवरन सिंह ठाकुर फरार है। पूछताछ में इन आरोपियों ने बताया कि भरतपुर जेल में गैंग बनाई थी। गैंग का मास्टरमाइंड अविनाश है, जो पहले फौजी था। दुष्कर्म का मामला दर्ज होने के बाद उसकी नौकरी चली गई। इन लोगों ने 25 जनवरी को पेट्रोल पंप पर लूट के लिए धौलपुर से चुराई बाइक का इस्तेमाल किया था।

खबरें और भी हैं...