रेलवे का टाइम मिसमैनेजमेंट:घाटीगांव से ग्वालियर की दूरी 36 किमी, पैसेंजर ट्रेन से लग रहे हैं 3.22 घंटे

ग्वालियर4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • लगभग ढाई घंटे घाटीगांव में खड़ी रहती है ट्रेन

गुना-ग्वालियर स्पेशल पैसेंजर ट्रेन के समय निर्धारण में मिसमैनेजमेंट होने के कारण यात्रियों का सफर में ढाई घंटे से ज्यादा का समय बर्बाद हो रहा है। घाटीगांव से ग्वालियर की रेल ट्रैक से दूरी 36 किमी की है। गुना से पैसेंजर ट्रेन को घाटीगांव से ग्वालियर आने पर 3.22 घंटे लगते हैं। जबकि 226 किमी गुना से ग्वालियर के बीच सफर तय करने में इस ट्रेन को 7.35 घंटे लगते हैं।

वहीं ग्वालियर से गुना पैसेंजर ट्रेन इतनी ही दूरी 5.15 घंटे में तय करती है। इस तरह गुना से आने वाली पैसेंजर ट्रेन में 2.20 घंटे ज्यादा लग रहे हैं। गुना से जो ट्रेन दोपहर 3 बजे चलती है वह रात 10.35 बजे ग्वालियर आती है। यह घाटीगांव में लगभग ढाई घंटे खड़ी रहती है।

ग्वालियर से घाटीगांव पैसेंजर ट्रेन पहुंचती है 50 मिनट में

ग्वालियर से गुना के लिए सुबह 8:20 बजे रवाना होने वाली पैसेंजर ट्रेन रेलवे द्वारा निर्धारित समय के अनुसार सुबह 9:10 बजे पहुंच जाती है। यानी 26 किमी का सफर यह पैसेंजर ट्रेन 50 मिनट में तय कर लेती है। जबकि गुना से पैसेंजर ट्रेन को इतना सफर तय करने में 3.22 घंटे लगते हैं। सिंधी बाजार एसोसिएशन के अध्यक्ष चंद्रप्रकाश मेघानी का कहना है कि रेलवे को समय सारिणी में सुधार करना चाहिए, इससे यात्रियों का समय बचेगा।

मिसमैनेजमेंट पर अफसरों के तर्क

ग्वालियर-गुना सिंगल लाइन का रेल ट्रैक है। घाटीगांव के पास ग्वालियर-इंदौर-रतलाम एक्सप्रेस, देहरादून एक्सप्रेस सहित कुछ ट्रेनों की क्रॉसिंग होती है। इस कारण पैसेंजर ट्रेन यहां खड़ी रहती है।
-राहुल जयपुरियार, मुख्य जनसंपर्क अधिकारी, पश्चिम मध्य रेलवे

गुना-ग्वालियर पैसेंजर ट्रेन में घाटीगांव से ग्वालियर तक 36 किमी का सफर तय करने में 3.22 घंटे क्यों लगते हैं? इस मामले को टेक्निकल डिपार्टमेंट से जानकारी लेंगे। हो सकता है ऑपरेशनल रीजन के चलते इतना समय लग रहा हो।
-विजय प्रकाश, सीनियर डीसीएम, भोपाल मंडल

खबरें और भी हैं...