पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Gwalior
  • Gwalior's Bookie Caught At Delhi Airport, Was Preparing To Flee To Uzbekistan, Is Fond Of Traveling Abroad

3 साल से पुलिस को दे रहा था चकमा:ग्वालियर का सटोरिया दिल्ली एयरपोर्ट पर पकड़ा, उज्बेकिस्तान भागने की थी तैयारी, विदेशों में वाइन पीते हुए फोटो FB पर डाले थे

ग्वालियर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
संतोष सफेद टी-शर्ट में खड़ा हुआ, अपने दोस्तों के साथ गोवा में मस्ती घूमता हुआ - Dainik Bhaskar
संतोष सफेद टी-शर्ट में खड़ा हुआ, अपने दोस्तों के साथ गोवा में मस्ती घूमता हुआ
  • सटोरिए को लेने क्राइम ब्रांच की टीम रवाना

मध्यप्रदेश और दिल्ली में क्रिकेट पर सट्‌टा का सबसे बड़ा रैकेट चलाने वाला शातिर सटोरिया संतोष घुरैया दिल्ली एयरपोर्ट पर पकड़ा गया है। सोमवार रात को उसे उज्बेकिस्तान जाने वाली फ्लाइट में चढ़ना था। जैसे ही वह दिल्ली एयरपोर्ट पहुंचा वहां की सिक्योरिटी ने उसे हिरासत में ले लिया। यह तीन साल से पुलिस को चकमा दे रहा था।

बताते हैं कि इन तीन साल में उसने दिल्ली के अलावा पूरे mp में सट्‌टा रैकेट खड़ा कर दिया था। सट्‌टे के पैसे से उसे विदेशों में अय्याशी करने का शौक था। इसलिए ग्वालियर पुलिस ने उसके खिलाफ लुक आउट नोटिस जारी कर रखा था। जैसे ही वह एयरपोर्ट पहुंचा तो पकड़ा गया। ग्वालियर क्राइम ब्रांच उसे लेने के लिए निकल गई है। शाम तक उसको लेकर आने की संभावना है।

ग्वालियर के थाटीपुर निवासी संतोष घुरैया IPL के मैचों पर सट्‌टा खिलाने का रैकेट चलाता है। क्रिकेट पर सट्‌टा खिलाने में उसे महारथ हासिल है। करीब तीन साल पहले उसके गैंग का खुलासा थाटीपुर पुलिस ने किया था। उसकी गैंग तो पकड़ी गई थी, लेकिन वह पुलिस की पकड़ में नहीं आया था। इसके बाद से लगातार पुलिस उसकी तलाश कर रही है, लेकिन हर बार वह पुलिस को चकमा देकर फरार हो जाता था।

इसके बाद कई गैंग और पकड़ी और हर बार संतोष घुरैया का ही नाम सामने आया। उस समय उसकी पकड़ी गई गैंग से खुलासा हुआ था कि जिस नेटवर्क पर वह क्रिकेट पर सट्‌टा खिलाते थे उसका आईपी एड्रेस सउदी अरब, उज्बेकिस्तान में हुआ करता था। हाल ही में पता लगा था कि उसने पूरे मध्य प्रदेश में सटोरियों का रैकेट बना लिया था।

SP ग्वालियर अमित सांघी ने उसके खिलाफ लुक आउट नोटिस जारी किया था। जिस कारण देश के सभी एयरपोर्ट अलर्ट थे। सोमवार रात को वह फ्लाइट पकड़ने जैसे ही वह दिल्ली एयरपोर्ट पहुंचा सिक्योरिटी ने उसे हिरासत में लेकर ग्वालियर पुलिस को सूचना दे दी। SP अमित सांघी का कहना है कि दिल्ली एयरपोर्ट से लेने के लिए ग्वालियर क्राइम ब्रांच की टीम रवाना कर दी है।

MP से दिल्ली तक था नेटवर्क

तीन साल पहले थाटीपुर थाना के तत्कालीन थाना प्रभारी रविन्द्र सिंह गुर्जर ने मुरार में एक मेडिकल स्टोर पर काम करने वाले हनी जैन को पकड़ा था। यह मोबाइल पर सट्‌टा खिला रहा था। उसके बाद थाटीपुर निवासी गोलू तक पहुंचे। इसके बाद उनसे प्रशांत का नाम सामने आया था।

प्रशांत की लोकेशन भोपाल मिली थी। इस गैंग से खुलासे के बाद रैकेट के मास्टरमाइंड संतोश घुरैया निवासी थाटीपुर, आकाश राणा व प्रशांत के नाम आए। संतोष की लोकेशन दिल्ली मिली थी। यहां यह पता लगा था कि प्रदेश के कई शहरों के साथ-साथ देश की राजधानी दिल्ली में उसने सट्‌टे का खेल जमा रखा था। तभी से वह फरार था।

अय्याशी का है शौक

सटोरिया संतोष सट्‌टे से होने वाली कमाई से विदेश में जाकर अय्याशी करता था। कुछ समय पहले तक तक सोशल मीडिया पर उसके मलेशिया, थाइलैंड के बीच पर वाइन पीते हुए के फोटो छाए रहते थे। जब पुलिस ने निगरानी रखना शुरू की तो एक साल पहले उसने सारे फोटो सोशल मीडिया से हटा लिए थे। साथ ही सारे अकाउंट भी क्लोज कर दिए। अब क्राइम ब्रांच उसे लेकर आ रही है तो पूरे तीन साल का हिसाब किताब किया जाएगा।

खबरें और भी हैं...