पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Gwalior
  • If Eco Green's Red Signal Does Not Start Taking Garbage In 24 Hours, The Corporation Will Takeover Vehicles And Garbage Center

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

21 दिन बाद भी पटरी पर नहीं आई सफाई व्यवस्था:ईको ग्रीन काे रेड सिग्नल 24 घंटे में कचरा लेना शुरू नहीं किया तो निगम टेकओवर करेगा वाहन और कचरा सेंटर

ग्वालियरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • 2017 में ईको ग्रीन कंपनी ने 21 साल के लिए 16 निकायाें में सफाई व्यवस्था संभाली थी
  • 254 करोड़ के प्रोजेक्ट में कंपनी 15 नगरीय निकायों में काम पहले बंद कर चुकी है
  • 01 कराेड़ निगम ने हाल में कंपनी काे दिए हैं फिर भी उसके कर्मचारी हड़ताल पर

21 दिन बाद शुक्रवार को भी शहर में सफाई व्यवस्था पटरी पर नहीं आ पाई। दसवीं बार ऐसा हुआ, जब गाड़ियां कचरा लेने नहीं निकलीं और लाेगाें काे कचरा डस्टबिन में ही रखना पड़ा। ज्यादातर लाेगाें ने घराें से निकला कचरा सड़क किनारे फेंक दिया। हालांकि दिवाली के मद्देनजर नगर निगम ने ईको ग्रीन कंपनी पर सख्ती करने के लिए 24 घंटे का अल्टीमेटम दे दिया।

निगम आयुक्त संदीप माकिन ने नाेटिस जारी कर कंपनी से कहा है कि यदि 24 घंटे में कंपनी कचरा कलेक्शन का कार्य पुन: शुरू नहीं करती है ताे नगर निगम कंपनी के 186 वाहन और 7 ट्रांसफर स्टेशन (कचरा सेंटर) को कब्जे में ले लेगी। इसके बाद निगम ही कचरा कलेक्शन का काम संभालेगा। इससे पहले निगमायुक्त पिछले साल बनाए वार्ड मॉनीटरों की बैठक बुलाई थी। इसमें अपर आयुक्त और सिटी प्लानरों को जिम्मेदारी से मुक्त कर दिया। जबकि ये ही लोग सफाई व्यवस्था की निगरानी कर रहे थे।

चीन की कंपनी ने ईकोग्रीन की मदद से किया इनकार
ईको ग्रीन कंपनी का चीन की कंपनी से साझेदारी थी। भारत-चीन विवाद के बाद चीन की कंपनी ने ईको ग्रीन कंपनी में पैसा नहीं लगाना चाहती है। इस वजह से ईकोग्रीन का आगे शहर में का काम करना मुश्किल प्रतीत हाे रहा है। नगर निगम ने कंपनी के खाते में एक करोड़ रुपए डाल दिए थे, फिर भी कर्मचारियों को वेतन नहीं दिया गया है। इस कारण कंपनी के कर्मचारी अनिश्चितकालीन हड़ताल पर हैं।

कंपनी को हटाने पर भी निगम नहीं संभाल सकेगा पूरी व्यवस्था
यदि नगर निगम ईको ग्रीन कंपनी को हटा देता है तो वह अपनी दम पर सफाई व्यवस्था को पूरी तरह से नहीं संभाल सकेगा। शुक्रवार को निगमायुक्त के सामने वार्ड मॉनीटरों की बैठक में ये बात सामने आई कि निगम के कचरा उठाने वाले वाहन 60 प्रतिशत ही ठीक हैं। डोर-टू-डोर वाले वाहन 50 चालू हालात में हैं। हाथठेले तक वर्कशाप पैसा नहीं होने की वजह से ठीक नहीं हो पा रहे हैं। अब ऐसे में नगर निगम ईको ग्रीन के 188 वाहन लेता है तो कंपनी के चालक एवं सहयोगियों को भी लेना होगा, तभी दो पालियों में कचरा उठाया जा सकेगा।

24 घंटे का वक्त, नहीं तो निगम संभालेगा काम
शहर की सफाई व्यवस्था काे सुधारने के लिए हमने ईको ग्रीन कंपनी को कई मौके दिए, लेकिन हालात में अपेक्षानुरूप सुधार नहीं आया। हमने अब कंपनी को 10 अक्टूबर की शाम तक का वक्त दिया है। यदि कंपनी ने कचरा कलेक्शन व अन्य कार्य शुरू नहीं किया तो निगम वाहन और कचरा सेंटर अधिगृहीत करेगा। सफाई व्यवस्था को मैं खुद चेक करूंगा।
-संदीप माकिन, आयुक्त नगर निगम

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- दिन उन्नतिकारक है। आपकी प्रतिभा व योग्यता के अनुरूप आपको अपने कार्यों के उचित परिणाम प्राप्त होंगे। कामकाज व कैरियर को महत्व देंगे परंतु पहली प्राथमिकता आपकी परिवार ही रहेगी। संतान के विवाह क...

और पढ़ें