• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Gwalior
  • In The Name Of Land, The Doctor And His Father Took Three And A Half Crore Rupees And Did Not Even Sell The Land.

बाप-बेटे ने की 2.71 करोड़ की धोखाधड़ी:जमीन के नाम पर डॉक्टर और उसके पिता ने महिला से रुपए ले लिए, जमीन भी नहीं बेची

ग्वालियर6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

ग्वालियर में LIC एजेंट महिला से जमीन के नाम पर करीब पौने तीन करोड़ रुपए की धोखाधड़ी की गई है। यह धोखाधड़ी एक डॉक्टर और उसके पिता ने की है। घटना थाटीपुर के नेहरू कॉलोनी में अप्रैल 2003 से अभी तक की है। जब 18 साल बाद भी बीमा कंपनी की एजेंट और उनके पति को न तो जमीन मिली और न रुपए। उन्होंने मामले की शिकायत थाटीपुर थाने में की है। पुलिस ने आरोपी डॉक्टर और उसके पिता पर धोखाधड़ी मामला दर्ज कर लिया है।

थाटीपुर के नेहरू कॉलोनी निवासी सुनीता शर्मा पत्नी हरीश शर्मा LIC में एजेंट हैं। उनके पति प्रॉपर्टी का काम करते हैं। थाटीपुर में की गई शिकायत में सुनीता ने पुलिस को बताया कि डॉ. आदित्य भदौरिया और उसके पिता बलदेव भदौरिया ने उनके साथ धोखाधड़ी की है। सुनीता ने बताया कि डॉक्टर और उसके पिता ने उससे कहा था कि उनकी गोवर्धन गृह निर्माण समिति को ग्वालियर विकास प्राधिकरण से भूखंड आवंटित हुए हैं।

उन्होंने जीडीए का ले-आउट नक्शा भी दिखाया। जिस पर GDA के अफसरों के साइन भी थे। बलदेव भदौरिया ने आश्वासन दिया कि प्लॉट हर तरह से क्लियर है। वे नगर निगम से भी नक्शा पास करवा देंगे। जीडीए से नामांतरण भी करवा देंगे। इसी आधार पर उन्होंने डील कर ली। रकम आरोपियों को किश्तों में दे दी। चार प्लॉट के बदले एक करोड़ 56 लाख रुपए दिए गए।

पहले इन्होंने प्लॉट के नाम पर चपत लगाई। इसके बाद एक खेती योग्य जमीन जो बरेठा में स्थित है, उसके नाम से रकम ली। ठगों ने जमीन सुनीता को दिखाई्र। बाद में रजिस्ट्री राहुल भार्गव, शशि भदौरिया, भानू प्रताप गुर्जर के नाम पर कर दी। जब उन्हें पता चला कि उनके साथ इस तरह जालसाजी की गई है, तो उन्होंने कार्रवाई कर रजिस्ट्री रुकवा दी। FIR में लिखा है कि तब वे समझौता करने भदौरिया के घर गए, तो उनको वहां धमकाया गया था। इसके बाद वह थाने पहुंचे और मामले की शिकायत की। पुलिस ने जांच के बाद धोखाधड़ी का मामला दर्ज कर लिया है।

पुलिस का कहना
मामले में एएसपी राजेश दंडौतिया ने बताया कि धोखाधड़ी का मामला दर्ज कर लिया है। जांच की जा रही है, जो भी तथ्य सामने आएंगे, उसके आधार पर कार्रवाई की जाएगी।

खबरें और भी हैं...