पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Gwalior
  • Infection Rate Doubled In Gwalior, Death Rate Increased By 0.54%; Second Wave Was More Deadly In Gwalior Than Indore, Jabalpur

कोरोना संक्रमण:ग्वालियर में संक्रमण दर दोगुनी, मृत्यु दर 0.54% बढ़ी; इंदौर, जबलपुर की तुलना दूसरी लहर ग्वालियर में ज्यादा घातक रही

ग्वालियर4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर ग्वालियर के लिए ज्यादा घातक साबित हुई। पहली लहर यानी की 24 मार्च 2020 से मार्च 2021 तक ग्वालियर की संक्रमण दर 5.45% और मृत्यु दर 1.64% थी। लेकिन दूसरी लहर (1 अप्रैल 2021 से अब तक) में संक्रमण के मामले इतने ज्यादा मिले कि ग्वालियर की संक्रमण दर 10.15 % और मृत्यु दर 2.18% पर पहुंच गई। ये आंकड़ा इसलिए भी चिंताजनक है क्योंकि प्रदेश के सबसे ज्यादा संक्रमित केसों वाले शहर, इंदौर में भी संक्रमण दर में इतनी वृद्धि नहीं हुई। जबलपुर की बात करें तो वहां भी पहली लहर की तुलना दूसरी लहर में संक्रमण दर में 3.7 % ही बढ़ी है।

एक्सपर्ट व्यू; -डॉ. एमएस राजावत, डब्ल्यूएचओ प्रतिनिधि, ग्वालियर संभाग
कम सैंपलिंग के कारण संक्रमण दर रही ज्यादा

अन्य जिलों की तुलना ग्वालियर में सैंपलिंग कम हुई। जितनी ज्यादा सैंपलिंग होती है, उतनी ही जल्दी संक्रमण का पता चलता है। इससे संक्रमित को न केवल समय पर इलाज मिलना शुरू हो जाता है, बल्कि संक्रमण फैलने का खतरा भी कम हो जाता है। ऐसा करने से संक्रमण दर भी नियंत्रण में रहती है। ऐसा भी प्रतीत होता है कि इस बार ग्वालियर में वायरस का लोड ज्यादा रहा और लोगों ने भी ज्यादा लापरवाही बरती। इसी कारण से कम समय में ज्यादा संक्रमण फैल गया।

खबरें और भी हैं...