इमरती देवी की कांग्रेस को दो टूक…:महाराज मेरे भगवान, पिता समान हैं, उन्होंने मुझे गले लगाया; कांग्रेस को जो समझना हो समझे

ग्वालियर3 महीने पहले
यह फोटो हुआ था वायरल जिस पर बुधवार को पूर्व मंत्री इमरती देवी ने जवाब दिया है।

केन्द्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य के पूर्व मंत्री इमरती देवी को गले लगाने का फोटो वायरल होने के बाद कांग्रेन नेताओं ने सोशल मीडिया पर कई सवाल भी खड़े किए थे। बुधवार को प्रभारी मंत्री तुलसीराम सिलावट के साथ कटोराताल छत्री पर आईं पूर्वमंत्री इमरती देवी ने कांग्रेसियों को दो टूक जवाब दिया है। वह बोलीं- महाराज साहब (ज्योतिरादित्य सिंधिया) मेरे भगवान हैं।

पूर्व मंत्री ने कहा, सिंधिया मेरे पिता समान हैं। उनके केन्द्रीय मंत्री बनने पर मेरे मन की भावनाएं छलकीं। मेरे आंसू आ गए तो उन्होंने पहले मेरे सिर पर हाथ रखा फिर गले लगाकर कहा कि इमरती मैं हमेशा आपके साथ हूं। कभी घबराना नहीं। कांग्रेस भावनाओं को नहीं समझती। उनको जो समझना है समझें, जो अर्थ निकालना है निकालें।

एक SC हूं फिर भी महाराज ने मुझे गले लगाया इमरती देवी ने कहा कि कांग्रेस को आलोचना करना है तो करे। लोग कहते हैं कि महाराज साहब किसी से हाथ नहीं मिलाते। मैं एक SC की महिला हूं। इसके बाद भी उन्होंने मेरे सिर पर हाथ रखा, गले लगाया। अब लोगों को क्या प्रमाण चाहिए। इससे बड़ा उदाहरण कुछ नहीं हो सकता है। कांग्रेस कभी भावनाओं को न समझती है न समझेगी।

पूर्वमंत्री इमरती देवी, इनकी गिनती सिंधिया समर्थकों में होती है।
पूर्वमंत्री इमरती देवी, इनकी गिनती सिंधिया समर्थकों में होती है।

यह था पूरा मामला
केन्द्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने मोदी सरकार में जब कैबिनेट मिनिस्टर की शपथ ली तो उनके समर्थकों ने उनको दिल्ली पहुंचकर बधाई दी। इन्हीं में से एक पूर्व मंत्री इमरतीदेवी थीं। पूर्व मंत्री ने 8 जुलाई को सिंधिया के ऑफिस पहुंचकर उनको केन्द्रीय मंत्री बनने पर बधाई दी। जब वह मंत्री बनने की बधाई दे रही थीं तो इमरती देवी की आंखों में आंसू छलक उठे। पूर्व मंत्री को भावुक होते देखकर सिंधिया भी खुद को नहीं रोक पाए। उन्होंने पूर्व मंत्री को दो कदम आगे बढ़कर गले लगा लिया। यह पिक्चर क्लिक हुई और कुछ ही मिनटों में सोशल मीडिया पर वायरल हो गई। उसके बाद कांग्रेस ने इसकी आलोचना की। इसी आलोचना पर पूर्व मंत्री इमरती देवी ने यह बात कही है।

खबरें और भी हैं...