• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Gwalior
  • Message Was Hacked By Social Media Account, Suddenly The Son's Health Has Deteriorated And In The Name Of Help, Cheated The Merchant By 40 Thousand

ठगी का नया तरीका:सोशल मीडिया अकाउंट हैक कर किया मैसेज, अचानक बेटे की तबीयत बिगड़ गई है और मदद के नाम पर व्यापारी से ठगे 40 हजार

ग्वालियर9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
SP ऑफिस स्थित साइबर सेल में पीड़ित ने  शिकायत की है, पुलिस जांच कर रही है कि जिस अकाउंट में पैसा जमा कराया गया है वह किसके नाम पर है - Dainik Bhaskar
SP ऑफिस स्थित साइबर सेल में पीड़ित ने शिकायत की है, पुलिस जांच कर रही है कि जिस अकाउंट में पैसा जमा कराया गया है वह किसके नाम पर है
  • घटना गोला का मंदिर क्षेत्र की
  • साइबर सेल में पीड़ित ने की शिकायत

एक व्यवसायी से ठग उसके ही दोस्त के नाम पर 40 हजार रुपए ठग ले गए हैं। ठगों ने व्यवसायी के दोस्त का सोशल मीडिया अकाउंट हैक किया। इसके बाद उसी अकाउंट से व्यवसायी को मैसेज डाला कि अचानक बेटे की तबीयत बिगड़ गई है कुछ कैश डाल दे। इस पर व्यापारी भावना में बह गया और 40 हजार रुपए उसके खाते में डाल दिए। इसके बाद 20 हजार रुपए और मांगे। यह भी व्यापारी जमा कराने जा रहा था, तभी वही दोस्त रास्ते में मिल गया और ठगी का खुलासा हुआ। घटना दो दिन पहले गोला का मंदिर की है। पीड़ित ने साइबर सेल में शिकायत की है।

गोला का मंदिर थाना क्षेत्र निवासी पवन सिंह भदौरिया व्यवसायी हैं। दो दिन पहले उन्हें उनके दोस्त दिलीप शर्मा के मैसेंजर से पोस्ट आई। जिसमें दिलीप ने बताया कि उनके बेटे का स्वास्थ्य अचानक बिगड़ गया है। उसके पास उसका ATM व CREDIT कार्ड नहीं है, इसलिए उन्हें अर्जेंट में कुछ पैसों की जरूरत है। वह अस्पताल से लौटते ही उनको पूरा पैसा चुका देगा। दिलीप शर्मा भी व्यापारी हैं, इसलिए पवन को लगा कि उनकी तत्काल मदद करनी चाहिए। उसने पहले 20 हजार बाद में 20 हजार रुपए उनके बताए अकाउंट में डाल दिए। पर इसके बाद दिलीप ने फिर मैसेज किया कि 20 हजार रुपए की और जरूरत है। इस पर पवन जब कैश लेकर बैंक में जमा कराने जा रहे थे तभी दिलीप उनको रास्ते में मिल गए। पवन ने पूछा बेटे को क्या हुआ है तो दिलीप आश्चर्य में पड़ गए। इसके बाद व्यवसायी ने मैसेज वाली बात बताई। इस पर दिलीप और पवन को समझ में आया कि दिलीप का सोशल मीडिया अकाउंट हैक हुआ है और उनके साथ ठगी हुई है। इसके बाद जानकारी जुटाई तो पता लगा कि पवन की तरह और भी कई लोगों को बेटे की तबीयत अचानक खराब होन का मैसेज गया है। तत्काल उन्होंने साइबर सेल में शिकायत की और अपना सोशल मीडिया अकाउंट ब्लॉक कराया।

ठगी का नया तरीका है

यह ठगों का नया तरीका है। लोग फोन पर अब ATM की डिटेल व OTP नहीं बताते हैं। ठगों के यह पैंतरे पुराने हो चुके हैं। इसलिए अब ठग लॉटरी या इस तरह से सोशल मीडिया को कुछ समय के लिए हैक कर टारगेट के सारे नंबर कॉपी कर उनको मैसेज भेजकर इस तरह से ठगते हैं। हर तीसरे दिन इस तरह की एक वारदात साइबर सेल पहुंच रही है।