पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Gwalior
  • MLA Praveen Pathak Said Our Crime Is That We Are Not Sold, We Have Not Taken 35 35 Crores Rupees.

कांग्रेस विधायकों का भाजपा पर फूटा गुस्सा:विधायक प्रवीण पाठक बोले-हमारा अपराध यह है कि हम बिके नहीं, हमने 35-35 करोड़ रुपए नहीं लिए हैं

ग्वालियर5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मीडिया के सामने शासन प्रशासन के कार्यो पर सवाल खड़े करते कांग्रेस विधायक प्रवीण पाठक, सतीश सिकरवार - Dainik Bhaskar
मीडिया के सामने शासन प्रशासन के कार्यो पर सवाल खड़े करते कांग्रेस विधायक प्रवीण पाठक, सतीश सिकरवार
  • कांग्रेस विधायक प्रवीण पाठक, विधायक सतीश सिकरवार ने भाजपा पर बोला हमला
  • विकास कार्य और स्मार्ट सिटी के प्रोजेक्ट पर बात करते समय उठाए सवाल

हमारा अपराध यह है कि हम बिके नहीं है। हमने 35-35 करोड़ रुपए नहीं लिए हैं। इसलिए हमारे विधानसभा क्षेत्र से भेदभाव हो रहा है। यह भारतीय जनता पार्टी वो नहीं रही है जो कभी पंडित दीनदयाल उपाध्याय के समय थी। प्रशासन अपनी मर्जी से प्लान बना रहा है। लॉकडाउन से वैसे ही हालत खराब थी अब ठेले वालों को परेशान किया जा रहा है। रविवार शाम ग्वालियर दक्षिण से विधायक प्रवीण पाठक ने आक्रोशित लहजे में शासन और प्रशासन पर सवाल उठाए हैं। विधायक प्रवीण पाठक, विधायक सतीश सिकरवार और कांग्रेस जिलाध्यक्ष देवेन्द्र शर्मा ने भाजपा के विकास व स्मार्ट सिटी के दिखावे के प्रोजेक्ट्स पर बात करने के लिए रविवार शाम को प्रेसवार्ता आयोजित की थी।

जिला प्रशासन पर उठाए सवाल

विधायक प्रवीण पाठक का कहना है कि सबसे ज्यादा तकलीफ इस बात की है कि ग्वालियर का प्रशासन जिस तरह दशा और दिशा बदलने के लिए जो योजना बना रहा है उसमें बहुत ज्यादा खामियां हैं। विधायक तो पांच साल का होता है। पांच साल बाद जनता पूछ लेती है कि बताओं आपने क्या किया। प्रशासन का क्या है कलेक्टर अभी ग्वालियर कलेक्टर हैं, कल भोपाल के होंगे उसके बाद इंदौर के कलेक्टर होंगे। ग्वालियर की चिंता हमें करनी पड़ेगी

इंदौर, भोपाल देखिए कितनी तरक्की कर गया है

विधायक प्रवीण पाठक, विधायक सतीश सिकरवार ने आरोप लगाया है कि ग्वालियर में शासन और प्रशासन भेदभाव पूर्ण रवैया अपनाए हुए है। आज की स्थिति देखिए भोपाल, इंदौर विकास में ग्वालियर से कितना आगे निकल गए हैं। क्या ग्वालियर में पैदा होना अभिशाप है।

ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह पर साधा निशाना

विधायक प्रवीण पाठक ने ऊर्जा मंत्री पर निशाना साधते हुए कहा कि भेदभावपूर्ण तरीके से शासन- प्रशासन काम कर रहा है। बिजली कंपनी ग्वालियर दक्षिण और ग्वालियर पूर्व के लोगों को लगातार नोटिस दे रही है। जरा सा बिल में देरी होने पर लाइन काट दी जाती है। ग्वालियर विधानसभा में कितने लोगों को नोटिस दिए हैं जरा यह बता दें।

खबरें और भी हैं...