ग्वालियर में 5 दिन में 7वीं हत्या:पैसों के लेनदेन में युवक को चाकू से गोदा, बचाने आए बड़े भाई और मां को भगाया; दो नाबालिग पकड़ाए

ग्वालियर10 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
अमन दीक्षित की हत्या कर दी गई। - Dainik Bhaskar
अमन दीक्षित की हत्या कर दी गई।

ग्वालियर में 1 दिसंबर से अभी तक 7 लोगों की हत्या हो चुकी है। ताजा मामला उपनगर ग्वालियर थाना क्षेत्र के चंदन नगर इलाके का है। यहां अमन दीक्षित की उसी के घर में चाकू से गोदकर हत्या कर दी गई। वारदात का कारण पैसों का लेनदेन बताया जा रहा है। घटना के दौरान युवक के बड़े भाई और उसकी मां ने अमन को बचाने की कोशिश की, लेकिन दोनों हमलावरों ने उन्हें हथियारों की दम पर भगा दिया।

रात को पुलिस ने मामले में दो लोगों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। दोनों आरोपी आपस में रिश्तेदार हैं और नाबालिग हैं। जिले के भितरवार, डबरा, पिछोर थाटीपुर, बहोड़ापुर और मुरार में अभी तक 7 लोगों को मौत के घाट उतारा जा चुका है।

22 वर्षीय अमन दीक्षित पहले किताब की दुकान पर काम करता था। उसकी संगत बिगड़ने से वह कुछ दिन से बेकार था। वह आवारा लोगों की संगत में रहता था। रविवार तड़के पांच बजे के बीच उसके घर के बाहर वाले कमरे से चीखने चिल्लाने की आवाज सुनने के बाद बड़ा भाई और मां वहां पहुंचे। उस समय बदमाश चाकू से गोद कर उसकी हत्या कर चुके थे और भागने की कोशिश में थे।

परिवार के मुताबिक, अमन गलत संगत में पड़ गया था।
परिवार के मुताबिक, अमन गलत संगत में पड़ गया था।

नशे का आदी था

अमन के मामा हेमंत बाजपेई का कहना है कि आज सुबह अमन के पड़ोसी प्रदीप मिश्रा ने फोन करके बताया था कि अमन के साथ कोई लड़कों ने मारपीट कर दी है और वह लहूलुहान पड़ा हुआ है। अमन गलत संगत में फंस गया था और नशे का आदी हो गया था। अमन के साथ उसका बड़ा भाई और मां रहती है, जो दूसरे कमरे में सो रहे थे। जब अमन की चीखने की आवाज आई तो उसकी मां ने जाकर देखा तो दो युवक उसके साथ मारपीट कर रहे थे।

मोहल्ले वालों ने आरोपियों को देखा था भागते हुए

मोहल्ले वालों ने आरोपियों को भागते हुए देखा था। पुलिस द्वारा पूछताछ करने और घरवालों के बयानों के आधार पर दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस आरोपियों से पूछताछ कर रही है।

पैसों के लेनदेन का विवाद था

पुलिस के मुताबिक अमन दीक्षित ने आरोपियों को पैसे उधार दिए थे। इसी को लेकर विवाद चल रहा था। इसके अलावा भी इनकी रंजिश भी थी। रविवार सुबह अमन और नाबालिग लड़कों पर पैसों के लेनदेन को लेकर झगड़ा हुआ था। इसी दौरान आरोपियों ने चाकू से गोद दिया। शाम को दोनों आरोपी मुरैना भागने की फिराक में थे। इससे पहले पुलिस ने पकड़ लिया।

खबरें और भी हैं...