• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Gwalior
  • NCRT Books And Diagram Base Study In Biology Removes Confusion, This Is The Key To Success In NEET

11वीं, 12वीं से शुरू करें तैयारी:बायोलॉजी में NCERT बुक्स और डायग्राम बेस स्टडी से दूर होता है कंफ्यूजन

मध्यप्रदेश8 महीने पहले

NEET परीक्षा में सफलता के लिए बायोलॉजी सब्जेक्ट बेस है। इसमें ज्यादा मार्क्स हासिल करना सफलता के लिए बेहद जरूरी हो जाता है। परीक्षा में 360 में से 360 मार्क्स पाने के लिए NCERT की बुक्स और डायग्राम बेस स्टडी कंफ्यूजन दूर करती है। दूसरा बायोलॉजी टर्मलॉजी बेस्ड सब्जेक्ट है। समझना होगा कि किस टॉपिक का वेटेज कितना है। उसकी तैयारी उसी आधार पर करनी होगी। सफलता की सबसे बड़ी कुंजी NCERT के 11वीं और 12वीं की पढ़ाई है। इसे पूरी तरह से पढ़ना जरूरी है। उसमें से ही ज्यादातर सवाल पूछे जाते हैं। उन्हीं में आंसर छुपे रहते हैं। यदि उसे अच्छे से पढ़ा जाए, तो सभी प्रश्न हल करने में आसानी होगी। आइए जानते हैं एक्सपर्ट दिनेश शर्मा (रेजोनेंस इंस्टीट्यूट, ग्वालियर के बायोलॉजी सेक्शन हेड) से...

पसंदीदा टॉपिक से शुरू करें पढ़ाई, सफलता मिलेगी।
पसंदीदा टॉपिक से शुरू करें पढ़ाई, सफलता मिलेगी।

डायग्राम से समझने में आसानी होती है
NEET की तैयारी कैसे करें, सबसे ज्यादा बच्चों में यही कंफ्यूजन रहता है। उनके लिए एक ही सलाह है कि NEET में बायोलॉजी सब्जेक्ट पर पकड़ बनाने के लिए डायग्राम बेस पढ़ाई करें। कई तरह के कॉम्पलिकेशन होते हैं। डायग्राम से टॉपिक अच्छी तरह क्लियर हो जाता है। डायग्राम बेस स्टडी से पढ़ा हुआ कभी भूल नहीं सकते। ज्यादातर इंस्टीट्यूट में डायग्राम बेस पढ़ाई पर ही सबसे ज्यादा फोकस किया जाता है।

NCERT की बुक्स पढ़ें, सफलता मिलेगी
NCERT के महत्वपूर्ण टॉपिक्स के लिए 11वीं और 12वीं की बुक्स की बेस होती हैं। स्टूडेंटस को चाहिए कि वह NCERT की बुक्स को अच्छे से पढ़ें। बायोलॉजी के पेपर में इन्हीं बुक्स में से सबसे ज्यादा सवाल आते हैं। प्रवेश परीक्षा में अच्छी रैंक बनाने के लिए बायोलॉजी के पाठ्यक्रम पर मजबूत पकड़ जरूरी है। हर चैप्टर के एक-एक शब्द को गंभीरता से कई-कई बार पढ़ें। कुछ सालों से प्रश्न NCERT के चैप्टर के उन हिस्सों से भी पूछे गए, जिन्हें अतिरिक्त जानकारी के तौर पर चैप्टर में शामिल किया गया था।

यह टॉपिक दिलाएंगे सफलता
बायोलॉजी डायग्राम बेस है। हमें देखना होगा कि किस टॉपिक का वेटेज ज्यादा है उन पर ही फोकस करना चाहिए। जैसे प्लांट फिजियोलॉजी, रिप्रोडक्शन, इकोलॉजी, ह्यूमन फिजियोलॉजी और जेनेटिक्स यूनिट के टॉपिक पर फोकस रखकर पढ़ाई करनी होगी। बायोलॉजी के ज्यादातर सवाल इन यूनिट के टॉपिक से आते हैं।

बेसिक समझें, कॉन्सेप्ट क्लियर करें
NEET की प्रारंभिक तैयारी आपके बेसिक्स की जांच करता है। टफ कॉन्सेप्ट को जानने से पहले आपको आसान, बेसिक कॉन्सेप्ट को समझना होगा। कैसे शुरू करें?, मुझे कहां से शुरू करना चाहिए?, कब पढ़ाई करनी चाहिए? जैसे सवालों से भ्रमित न हों। अपने पसंदीदा टॉपिक से शुरुआत करें। यह आपको परीक्षा के लिए अच्छी तैयारी करने का आत्मविश्वास देगा। पहले थ्योरी पार्ट को समझें और फिर प्रॉब्लम सॉल्व करने की डायग्राम प्रैक्टिस करें। यह कॉन्सेप्ट को बेहतर तरीके से समझने का तरीका है।

खबरें और भी हैं...