पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Gwalior
  • Neighboring Uncle And Aunt Thugs Took 2 Lakh Rupees, Land Had To Be Sold For Daughter's Marriage

न नौकरी मिली न पैसा:पड़ोसी चाचा-चाची ठग ले गए 2 लाख रुपए, बेटी की शादी के लिए मां को बेचनी पड़ी जमीन

ग्वालियरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
प्रतीकात्मक फोटो - Dainik Bhaskar
प्रतीकात्मक फोटो
  • महाराजपुरा थाना में दर्ज हुई शिकायत

ग्वालियर में बेटी की नौकरी लगवाने पड़ोसी दंपति को 2 लाख रुपए दिए थे। दंपति को बिटिया चाचा-चाची कहती थी। उन्होंने वादा किया था नौकरी पक्का लगेगी। यदि किसी कारण से नहीं लगती है तो डबल करके रुपए वापस करेंगे। न नौकरी मिली न ही रुपए वापस मिले। इतना ही नहीं बिटिया की शादी के लिए मां को जमीन तक बेचनी पड़ी। घटना महाराजपुरा के कुंअरपुर गांव की है। पुलिस ने आरोपी दम्पति पर धोखाधड़ी का मामला दर्ज कर लिया है।

महाराजपुरा के कुंवरपुर निवासी सुनीता राजावत पत्नी रणवीर सिंह राजावत आंगनबाड़ी सहायिका के पद पर पदस्थ है। उनके पड़ोस में रहने वाली कल्पना शुक्ला भी आंगनबाड़ी कार्यकर्ता हैं। वर्ष 2015 में कल्पना और उसके पति ओमकार शुक्ला ने सुनीता से कहा था कि वह कुछ विभाग के लोगों को जानते हैं और उसकी बेटी की अच्छी नौकरी लगवा सकते हैं। इस पर सुनीता को लगा कि बेटी की अच्छी नौकरी लग जाएगी तो जीवन सुधर जाएगा और शादी के लिए अच्छा लड़का भी मिल जाएगा। नौकरी लगवाने बात हुई तो शुक्ला दम्पति ने 2 लाख 6 हजार रुपए की डिमांड की। साथ ही विश्वास दिलाया कि किसी कारण नौकरी नहीं मिल पाती है तो यह रकम दोगुना करके वापस देंगे। पर काफी समय तक नौकरी नहीं लगी। इस पर सुनीता ने अपने रुपए वापस मांगे। शुक्ला दम्पति ने कहा कि वह बेटी की शादी पर पूरा पैसा लौटा देंगे।

बेटी की शादी पर पलट गए, बेचनी पड़ी जमीन

  • जब बेटी की शादी नजदीक आई तो सुनीता ने शुक्ला दम्पति पैसे वापस मांगे तो वह अपने वादे से पलट गए। सुनीता ने पंचायत में मामले को बुलाया। आरोपी पक्ष ने पंचों के सामने 70 हजार रुपए दे दिए और शेष धीरे-धीरे देने के लिए कहा, लेकिन नहीं दिए। इसके बाद सुनीता को बेटी की शादी करने के लिए अपनी पुश्तैनी जमीन बेचनी पड़ी। साथ ही उसने मामले की शिकायत महाराजपुरा थाना में की है। जिस पर पुलिस ने ठगी का मामला दर्ज किया है।
खबरें और भी हैं...