पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Gwalior
  • Neither Mansingh Palace Will Open On The Fort Nor Gujari Mahal And Saas Bahu's Temple Light And Sound Shay Will Also Not Be Operational, Only Religious Tourist Places Will Open

राहत:किले पर न मानसिंह पैलेस खुुलेगा न गूजरी महल और सास-बहू का मंदिर लाइट एंड साउंड शाे भी चालू नहीं होगा, सिर्फ धार्मिक पर्यटन स्थल खुलेंगे

ग्वालियरएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
  • आज से पर्यटन निगम के होटलों में ठहर सकेंगे पर्यटक, लेकिन रूम सर्विस नहीं मिलेगी

करीब 79 दिन के बाद भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण ने राष्ट्रीय स्मारकों को साेमवार से खाेलने का फैसला लिया है लेकिन इसका ज्यादा असर ग्वालियर में नहीं हाेगा। न किले का मानसिंह पैलेस खुलेगा, न गूजरी महल संग्रहालय और न ही सास-बहू का मंदिर। यही नहीं किले पर हाेने वाला लाइंड एंड साउंड शाे भी चालू नहीं हाेगा। सिर्फ किले के आसपास और शहर में स्थित मोहम्मद गौस का मकबरा जैसे कुछ धार्मिक स्मारक खुलेेंगे जहां पर्यटकाें की आवाजाही पहले ही सीमित रहती है। हालांकि साेशल डिस्टेंसिंग काे ध्यान में रखकर केंद्रीय संस्कृति मंत्रालय ने हर स्मारक के लिए पर्यटक संख्या तय कर दी है। हर दिन 20 से लेकर अधिकतम 600 तक पर्यटकों को स्मारक के हिसाब से देखने की छूट मिलेगी। 

ग्वालियर रीजन में चार हाेटल खुलेंगे: मप्र राज्य पर्यटन विकास निगम ग्वालियर रीजन के 4 होटल खाेलेगा। इनमें ग्वालियर की तानसेन रेसीडेंसी के अलावा ओरछा के दो और शिवपुरी का एक होटल शामिल हैं, लेकिन होटल में वेटर खाने की सर्विस नहीं देगा। यानी यहां ठहरने वालाें काे एक रेस्टाेरेंट से खुद काे खाना चुनना पड़ेगा। होटल के स्वीमिंग पुल, जिम और बीयरबार पर भी ताला रहेगा।

ये रहेगी गाइडलाइन

सोशल डिस्टेंसिंग के साथ मास्क लगाना जरूरी होगा। बिना इसके प्रवेश नहीं मिल सकेगा। यदि कोई पर्यटन अपने साथ गाइड को ले जाना चाहते हैं, तो वे भी जा सकेंगे। उन्हें भी कोरोना-19 के प्रोटेकॉल का पालन करना होगा। पर्यटक तय संख्या से ज्यादा होने पर उन्हें बाहर रोक दिया जाएगा। कर्मचारी हर स्मारक के बाहर सुरक्षा के साथ तैनात रहेगा।

होटल में ये होगी व्यवस्था 

होटल के अंदर प्रवेश करने से पहले आगंतुक की थर्मल स्केनिंग होगी। सेनिटाइज किया जाएगा। पर्यटक को सेल्फ डिक्लेरेशन और ट्रेवल हिस्ट्री बतानी होगी। मुंह पर मास्क लगाना होगा। रेस्टारेंट और रूम के बाहर तक सर्विस रहेगी। पर्यटकों को खुद खाना लेना होगा। पर्यटन निगम के स्टाफ को 6 फीट से ज्यादा की दूरी बनाकर काम करना होगा। हर स्टाफ को मास्क व दस्ताने पहनना होगा। 

प्रथम चरण में देश में खुलेंगे 820 धार्मिक पर्यटन स्थल
प्रथम चरण में हम देश में 820 धार्मिक पर्यटन स्थलों को खोल रहे हैं। अन्य स्मारक एवं संग्रहालयाें के अलग गाइड लाइन बन रही है। जाे स्मारक खुलेंगे वहां के लिए गाइड की एंट्री हाे सकेगी लेकिन साेशल डिस्टेंसिंग का पालन करना हाेगा। साथ ही पर्यटकाें की संख्या भी तय की गई है।

- प्रहलाद पटेल, केंद्रीय पर्यटन मंत्री

खबरें और भी हैं...