पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

हवा के रुख ने बदला मौसम:24 घंटे में ठंडी हवा से 4.5 डिग्री लुढ़का रात का पारा, मौसम में घुली ठंडक

ग्वालियर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मौसम का आनंद लेने शहर के लोग पर्यटन स्थल पर भी पहुंच रहे हैं,  सूर्य मंदिर का दृश्य। - Dainik Bhaskar
मौसम का आनंद लेने शहर के लोग पर्यटन स्थल पर भी पहुंच रहे हैं, सूर्य मंदिर का दृश्य।
  • सोमवार को न्यूनतम तापमान 9 डिग्री दर्ज हुआ है
  • एक बार फिर ठंड बढ़ गई है

हवा का रुख बदलते ही मौसम का भी रुख बदल गया है। अचानक ठंडी हवा चल पड़ी है। जिस कारण रात का तापमान बीते 24 घंटे में साढ़े चार डिग्री तक लुढ़का है। सोमवार को न्यूनतम तापमान 9 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ है। सुबह-सुबह कोहरा रहा है, पर उसके बाद हल्की धूप से राहत भी रही है।

मौसम विभाग की माने तो चक्रवातीय घेरा कमजोर पड़ने से अब अंचल का मौसम बदल रहा है। मौसम वैज्ञानिक सीके उपाध्याय ने बताया कि अभी तक जो भी सिस्टम बने थे वो कमजोर हो चुके हैं। यही कारण है कि हवा का रुख दक्षिणी की जगह उत्तरी हो चुका है और ठंडी हवा चल रही है। इस वजह से दिन और रात का तापमान कम होता जाएगा। बीते रोज की तुलना में न्यूनतम तापमान में साढ़े चार डिग्री की गिरावट आई है। सोमवार को न्यूनतम तापमान 9 डिग्री दर्ज हुआ है, जबकि रविवार को अधिकतम पारा 22.6 डिग्री रहा था। अब कोहरा और हवा दिन का तापमान भी नीचे लाएगी और जल्द दिन में भी ठंड बढ़ेगी।
ठिठुरन वाली ठंड के लिए रहें तैयार
अब ठंड बढ़ेगी यह तो साफ है। उत्तर से आने वाली ठंडी हवा अंचल सहित शहर का तापमान गिराएगी। अगले 48 घंटे में न्यूनतम तापमान 5 डिग्री पर आने की संभावना मौसम विभाग जता रहा है। संक्रांति पर हर बार कड़ाके की ठंड रहती है। इस बार भी संक्रांति पर ठिठुरन वाली ठंड रहने की संभावना है।
अलाव के सहारे बैठे दिखे लोग
शहर सहित अंचल के अन्य जिलों दतिया, मुरैना, शिवपुरी, भिंड और श्योपुर में भी तापमान गिरने से ठंड बढ़ गई है। ग्वालियर शहर में तो सोमवार सुबह लोग अलाव के सहारे बैठे नजर आए हैं। हालांकि इससे पहले रविवार को पर्यटन स्थलों पर चहल-पहल नजर आई है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आप अपने व्यक्तिगत रिश्तों को मजबूत करने को ज्यादा महत्व देंगे। साथ ही, अपने व्यक्तित्व और व्यवहार में कुछ परिवर्तन लाने के लिए समाजसेवी संस्थाओं से जुड़ना और सेवा कार्य करना बहुत ही उचित निर्ण...

और पढ़ें